comScore

 टिकटॉक पर मॉबलिंचिग का बदला लेने का वीडियो बनाने वालों के खिलाफ FIR - अब मांग रहे माफी 

 टिकटॉक पर मॉबलिंचिग का बदला लेने का वीडियो बनाने वालों के खिलाफ FIR - अब मांग रहे माफी 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। टिकटॉक एप पर मॉबलिंचिग का शिकार हुए तबरेज अंसारी की हत्या का बदला लेने से जुड़ा वीडियो पोस्ट करना पांच युवकों को मंहगा पड़ गया। साइबर पुलिस ने पांचों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। वीडियो वायरल होने के बाद शिवसेना के एक नेता ने मामले की शिकायत पुलिस से की थी जिसके आधार पर एफआईआर दर्ज की गई। एफआईआर दर्ज होने के बाद युवकों ने वीडियो बनाने के लिए माफी मांगी है साथ ही वीडियो भी टिकटॉक से हटा दिया गया है। 

यह वीडियो टीम 07 नाम से बनाकर अपलोड की गई थी। फैजल शेख, हसनैन खान, अदनान शेख, फैज बलोच और साधान फारुकी नाम के युवकों के खिलाफ पुलिस ने धारा 153 (ए) और 34 के तहत एफआईआर दर्ज की है। वीडियो में झारखंड में भीड़ द्वारा तबरेज अंसारी की हत्या का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि ‘मार तो दिया तुमने तबरेज को लेकिन अगर उसका बेटा कल बदला ले तो यह मत कहना कि मुसलमान आतंकवादी है। वीडियो अपलोड होने के बाद वायरल हो गया था। इसके बाद शिवसेना के पदाधिकारी रमेश सोलंकी ने एलटी मार्ग पुलिस में मामले की शिकायत की थी।

इसके बाद मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। वहीं वीडियो डिलीट कर युवकों ने अपनी हरकत के लिए माफी मांगी है लेकिन सोलंकी का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए जिससे दूसरे लोगों को सबक मिले और वे समाज में विद्वेश फैलाने वाले वीडियो न बनाएं। 

क्या है तबरेज अंसारी मामला

झारखंड के सरायकेला-खरसावा जिले में तबरेज अंसारी पर मोटर साइकल चोरी का आरोप लगाकर भीड़ ने उसे बुरी तरह पीटा था। आरोप है कि मारपीट के दौरान तबरेज से जय श्री राम और जय हनुमान के नारे लगवाए गए। परिवार का आरोप है कि मुसलमान होने के चलते उसके साथ मारपीट की गई। मामले में पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। 

कमेंट करें
QLTOU