comScore

नौसेना के विमान वाहक पोत INS विक्रमादित्य में लगी आग, लेफ्टिनेंट कमांडर डीएस चौहान शहीद


हाईलाइट

  • कर्नाटक में हुआ हादसा
  • आग बुझा रहे थे लेफ्टिंनेट कमांडर
  • आग पर काबू पा लिया गया

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरु। भारतीय नौसेना के विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य में शुक्रवार को आग लग गई। आगजनी की इस घटना में दम घुटने के कारण नौ सेना के एक अधिकारी की शहीद हो गई है। आईएनएस विक्रमादित्य नौसेना का सबसे बड़ा विमान वाहक पोत है। आग विमानपोत के के एक कंपार्टमेंट में लगी थी, घटना के पीछे की वजह जांचने के लिए एक बोर्ड ऑफ एन्क्वायरी का गठन कर दिया गया है, जो जांच करने के बाद कारणों का खुलासा करेगी।

हादसा उस समय हुआ, जब विक्रमादित्य कर्नाटक के कारवार के हार्बर में दाखिल हो रहा था, घटना के तुरंत बाद ही लेफ्टिनेंट कमांडर डीएस चौहान अपनी टीम के साथ आग बुझाने पहुंच गए थे, जिसके बाद कुछ ही देर में आग पर काबू पा लिया गया, लेकिन आग की लपटों और धुएं की वजह से चौहान बेहोश हो गए, उन्हें कारवार में स्थित नेवी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बता दें कि लेफ्टिनेंट कमांडर धर्मेन्द्र सिंह चौहान मध्य प्रदेश के रतलाम शहर के रहने वाले थे। धर्मेन्द्र सिंह का पार्थिव शरीर कल (रविवार) रतलाम लाया जाएगा। रतलाम में धर्मेन्द्र की मां और छोटी बहन रहती है। धर्मेन्द्र के शहीद होने की खबर मिलने के बाद से शहर में शोक की लहर है। 

कमेंट करें
nZMtT