comScore

मुंबई में वाशी स्टेशन पर लगी आग, मची अफरा-तफरी


डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई के वाशी रेलवे स्टेशन पर बुधवार को एक बड़ा हादसा टल गया। यहां लोकल ट्रेन में आग लग गई। जिसके बाद आनन-फानन में ट्रेन को खाली करा गया। हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है।  रेलवे अधिकारियों के मुताबिक पेंटाग्राफ पर किसी ने बैग फेंक दिया था, जिसके चलते यह हादसा हुआ। हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन इसके चलते ट्रेनों की आवाजाही पर असर हुआ और मध्य रेलवे की लोकल गाड़ियां करीब 15 मिनट देरी से चलीं। हादसे का शिकार हुई ट्रेन को जांच के लिए कारशेड भेज दिया गया। पेंटाग्राफ पर बैग फेंकने वाले आरोपी की पहचान की कोशिश की जा रही है। 

ट्रेन में आग लगने की सूचना मिलते ही रेलवे कर्मचारी घटना स्थल पर पहुंच गए। पूरे वाशी स्टेशन को खाली करवा दिया गया। प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर बिजली सप्लाई बंद कर दी। जिस कारण थोड़ी देर तक हार्बर लाइन पर ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ। 

बता दें सितंबर में कोपरखैरने स्टेशन पर लोकल ट्रेन का पेंटाग्राम टूट गया। जिस कारण ट्रांस-हार्बर लाइन की सेवाएं बांधित हुई। मुंबई लोकल में हर दिन 50 लाख से ज्यादा लोग सफर करते हैं। वर्ष 2006 में किए गए सर्वे के मुताबिक मुंबई लोकल में हर दिन 35 लाख लोग यात्रा करते हैं। 
 

शार्टसर्किट से लगी आग से 6 घायल 

उधर टाटा पॉवर कंपनी की मुख्य विद्युत वाहिनी का उच्च दाब वाला तार एक घर की छत से टकराने के बाद शार्टसर्किट से निकली चिंगारी से घर में आग लगने के चलते चार बच्चों समेत छह लोग जख्मी हो गए। हादसा वडाला के गणेशनगर इलाके में हुआ। हादसे का शिकार हुए सभी लोग उसी घर में रह रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक उच्च बिजली प्रवाह वाला तार दोपहर सवा दो बजे के करीब घर की छत से टकरा गया। इसके बाद विस्फोट होने लगा और चिंगारियां निकलने लगी। इसके चलते दो मंजिला घर में आग लग गई। आग की चपेट में आने से घर में मौजूद जयश्री खारगांवकर, जागृति चिकाटे नाम की दो महिलाएं और दीप्ती खारगांवकर, खुशी चिकाटे, स्वरा चिकाटे और अंश खारगांवकर नाम के बच्चे बुरी तरह जख्मी हो गए। हादसे का शिकार हुए बच्चों की उम्र 1 से चार साल के बीच है। घायलों को इलाज के लिए केईएम और सायन अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है। 

कमेंट करें
fFl3u