comScore

'इंडिया शाइनिंग' जैसा होगा BJP का हाल, हम 2019 में वापसी करेंगे : सोनिया गांधी

March 10th, 2018 09:39 IST

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने शुक्रवार को मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। एक टीवी चैनल के प्रोग्राम में बोलते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी 2019 में फिर से सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि '2014 के चुनावों में मोदी सरकार ने जमकर वादे किए थे और 4 साल हो जाने के बाद भी वो वादे सिर्फ वादे ही रहे हैं। मोदी सरकार के 'अच्छे दिन' का हाल भी 'इंडिया शाइनिंग' की तरह ही होगा और 2019 में हम वापसी करेंगे।' सोनिया ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ करते हुए कहा कि राहुल अपनी जिम्मेदारी अच्छे से समझते हैं। उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि बीजेपी ने कांग्रेस पार्टी पर एक मुस्लिम पार्टी होने का ठप्पा लगाया ताकि हिन्दू वोटों को अपने पक्ष में मोड़ सके।

क्या 2014 से पहले भारत ब्लैक होल था?

मुंबई में हुए एक टीवी चैनल के प्रोग्राम में कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि '2019 के लोकसभा चुनावों में मुद्दा मोदी सरकार के बीते 5 साल के दौरान किए वादे होंगे क्योंकि अभी उनके कार्यकाल को 4 साल पूरे हो गए हैं, लेकिन उनके सारे अभी भी सिर्फ वादे ही रह गए हैं। मुझे पूरा भरोसा है कि बीजेपी के अच्छे दिन का हाल एक बार फिर शाइनिंग इंडिया जैसा ही होगा। हम 2019 में सत्ता में फिर आएंगे।' सोनिया ने आगे सवालिया अंदाज में कहते हुए कहा कि 'क्या 26 मई 2014 से पहले भारत पूरी तरह एक ब्लैक होल था? क्या भारत का विकास और महानता सिर्फ 4 साल पहले ही बढ़ा है? ये सब कहना क्या हमारे लोगों का अपमान नहीं है?'

लोकतंत्र में बहस की खुली छूट होनी चाहिए

इसके आगे सोनिया गांधी ने कहा कि 'लोकतंत्र में बहस की खुली छूट होनी चाहिए लेकिन आज के दौर में काफी लोग पीछे छूट रहे है। इतिहास को बदलने की कोशिश की जा रही है।' उन्होंने आगे कहा कि 'मौजूदा हालात में देश की राजनीति अलग दौर से गुजर रही है। संविधान के सिद्धांतों पर प्रहार हो रहा है। सत्ता में बैठे लोग भड़काऊ बयान दे रहे हैं। इससे अभिव्यक्ति की आजादी का खतरा बढ़ा है। विरोधियों की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है।' उन्होंने कहा 'देश में रोजगार की समस्या गंभीर है। किसान परेशान हैं। इनकी आवाजें उठाने वाली पॉलिटिकल पार्टिज को जांच एजेंसियों के जरिए दबाने की कोशिश हो रही है।'

वाजपेयी सरकार की तारीफ

सोनिया गांधी ने एक तरफ जहां मोदी सरकार पर आरोप लगाए तो वहीं दूसरी तरफ वाजपेयी सरकार की तारीफ की। सोनिया ने कहा कि 'आज संसद में विपक्ष को बोलने भी नहीं दिया जाता। हम कई मुद्दों पर बहस भी नहीं कर पाते। पता नहीं क्यों सरकार चर्चा से भाग रही है।' उन्होंने कहा कि 'विचारधारा के मामले में भले ही हमारी पार्टी वाजपेयी से सहमत न हों, लेकिन वाजपेयी सरकार में संसदीय परंपराओं का सम्मान किया जाता था। इस मामले में मोदी सरकार पीछे रही है।'

राहुल अपनी जिम्मेदारियों को समझते हैं

सोनिया गांधी ने आगे कहा कि 'पार्टी अध्यक्ष का पद छोड़ने के बाद अब उनके पास पहले से ज्यादा समय है। इस समय में मैं राजीव गांधी से जुड़े पुराने डॉक्यूमेंट्स को पढ़ती हूं। परिवार की जिम्मेदारी संभालती हूं।' उन्होंने राहुल गांधी की तारीफ करते हुए कहा 'राहुल अपनी जिम्मेदारी अच्छे से समझते हैं। जैसे हर आदमी का काम करने का तरीका अलग होता है, वैसे ही राहुल भी अपने तरीके से काम कर रहे हैं। राहुल भी जब मुझसे किसी बारे में बात करते हैं तो मैं उन्हें सलाह देती हूं। राहुल नए लोगों को आगे लाना चाहते हैं।'

यूपीए सरकार को बदनाम किया गया, इसलिए हम हारे

टीवी चैनल के प्रोग्राम में सोनिया गांधी से जब 2014 की हार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि 'देश में हमारी सरकार 10 साल तक थी। हम दो टर्म तक सरकार में थे। ऐसे में हमें एंटी इनकंबैंसी फैक्टर का सामना करना पड़ा। बीजेपी भी अपना प्रोपेगैंडा फैलाने में कामयाब रही। हमारी सरकार को बदनाम किया गया। कई घोटालों को बढ़ा-चढ़ाकर बताया गया। अब हमारे सामने कई चुनौतियां हैं और इससे बाहर निकलने का रास्ता हमें ढूंढना होगा।' उन्होंने आखिरी में बताया कि वो राहुल के साथ कई मुद्दों पर लगातार चर्चा करती रहती हैं और उनकी कोशिश है कि देश में सेक्युलर फ्रंट तैयार किया जाए, ताकि देश की राजनीति को अच्छी दिशा मिलती रहे।

कमेंट करें
WnLlH