comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सरकारी जमीन बेचकर धोखाधड़ी, रकम मांगने पर बिल्डर ने दी जान से मारने की धमकी, केस दर्ज

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 11th, 2019 12:50 IST

2k
0
0
सरकारी जमीन बेचकर धोखाधड़ी, रकम मांगने पर बिल्डर ने दी जान से मारने की धमकी, केस दर्ज

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सरकारी जगह बेचकर धोखाधड़ी की। पीड़ित को जब यह बात पता चली और उसने रकम वापस मांगे तो जान से मारने की धमकी दी। फरियादी की शिकायत पर आरोपी बिल्डर के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। सक्करदरा थानांतर्गत बिल्डर विजय तुलसीराम डांगरे (55) आनंद नगर सक्करदरा निवासी पर शासकीय आरक्षित जगह को अपनी बताकर ग्राहकों को बंगला बनाकर देने के नाम पर करीब 44.25 लाख रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है। डांगरे महाराजा डेवलपर्स का संचालक है। वरिष्ठ थानेदार सांदीपन पवार ने डांगरे पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किए जाने की पुष्टि की। 

यह है आरोप
डांगरे पर आरोप है कि उसकी कंपनी ने ग्राहकों को स्वराज पार्क चिखली खुर्द कलमना में बंगला बनाकर देने के नाम पर कई ग्राहकों से करीब 44.25 लाख रुपए लिया। बंगला बनाकर नहीं देने पर जब ग्राहकों ने अपने पैसे वापस मांगे, तब उन्हें जान से मारने की धमकी दी जाने लगी। पीड़ित रामूजी बापूराव वानखेडे (66) रामवाड़ी, नई शुक्रवारी निवासी ने महाराजा डेवलपर्स के संचालक विजय डांगरे के खिलाफ सक्करदरा थाने में शिकायत दर्ज कराई। थाने की महिला पुलिस अधिकारी मेसरे ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

एक दशक बाद भी बंगला नहीं बनाया
रामूजी वानखेडे ने सक्करदरा पुलिस को बताया कि स्वराज पार्क चिखली खुर्द कलमना में डांगरे ने वर्ष 2006 में बंगला बनाकर देने के नाम पर उनसे नकदी 4 लाख व अन्य रकम ली। रामूजी ने करीब 20 लाख में दो बंगलो की बुकिंग की थी। लाखों रुपए देने के बाद भी एक दशक से अधिक समय बीत जाने पर भी जब विजय डांगरे ने उन्हें कोई बंगला बनाकर नहीं दिया, तब वह परेशान हो गए। रामूजी की तरह अन्य कई लोगों ने भी विजय डांगरे के पास बंगला की बुकिंग की थी। उन्हें भी कोई बंगलो बनाकर नहीं दिया गया। रामूजी के साथ अन्य कुछ ग्राहकों ने सक्करदरा थाने में पहुंचकर डांगरे के खिलाफ शिकायत की। थानेदार पवार के मार्गदर्शन में आरोपी विजय डांगरे पर पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download