comScore

तांत्रिक बावड़ी, इसका पानी पीते ही झगड़ने लगते हैं लोग

November 17th, 2017 13:05 IST
तांत्रिक बावड़ी, इसका पानी पीते ही झगड़ने लगते हैं लोग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ये बावड़ी तांत्रिक है, कहा जाता है कि इसका पानी पीते ही लोग बातों ही बातों में लड़ने लगते हैं और एक-दूसरे से उठापटक हो जाती है। ये किंवदंतियां हैं या हकीकत ये तो कोई नही बता सकता, लेकिन ये जरूर है कि लोग इसका पानी पीने से डरते हैं। 

राजा-महाराजाओं का शासन

ये तांत्रिक बावड़ी मध्य प्रदेश के श्योपुर शहर से 20 किमी दूर एक 250 साल पुराने महल गढ़ी में स्थित है। कहा जाता है कि जब राजपरिवार में ऐसी घटनाएं बढ़ने लगीं तो तो इसे बंद करने का फैसला लिया गया। यहा घटना उस वक्त की बतायी जाती है। जब यहां राजा-महाराजाओं का शासन हुआ करता था। 

राजा ने बनवाई थीं 8 बावड़ियां

बताया जाता है कि राजा गिरधर सिंह गौड़ ने करीब 250 साल पहले  गढ़ी में 8 बावड़ियां बनवायी थीं। इन्हीं बावड़ी में से एक बावड़ी तांत्रिक निकली, जिसका पानी पीना मतलब आप अपने चहेते से विवाद के लिए तैयार रहें। बरसों से प्रचलित इन कहानियों में लोग आज भी विश्वास करते हैं। 

तांत्रिक ने कर दिया था जादू टोना

स्थानीय निवासी बताते हैं कि राजा से नाराज एक नाराज तांत्रिक ने जादू.टोना कर दिया था, जिसके बाद इस बावड़ी का पानी पीते ही लोग झगड़ने लगते थे। ऐसे अनेक किस्से उस दौरान हर रोज सामने आने लगे। काफी समय बाद पता चल सका कि ये बावड़ी तांत्रिक है। और इसका पानी ही झगड़ा करता है। इसके प्रभाव से इंसान खुद पर काबू खो बैठता है और झगड़ने लगता है। राजाओं की सुंदर छत्रियां, पानी की बाबडियां अब ताे बुरी तरह बर्बादी की स्थिति में हैं। गढ़ी आज दुर्दशा का शिकार है। झगड़ा करवाने वाली ये अनोखी बावड़ी करीब 100 वर्ग फीट की है और यह 10 फीट गहरी है। इसमें हर वक्त पर्याप्त पानी नजर अाता है जिसे लाेग इस्तेमाल नही करते।

कमेंट करें
7vCme