comScore

'गीता' के उपदेशों से खत्म होगा भ्रष्टाचार : मनोहर लाल खट्टर

November 25th, 2017 22:41 IST
'गीता' के उपदेशों से खत्म होगा भ्रष्टाचार : मनोहर लाल खट्टर

डिजिटल डेस्क, कुरुक्षेत्र। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने देश में व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए नया उपाय बताया है। उन्होंने कहा है कि भ्रष्टाचार को गीता के उपदेशों से खत्म किया जा सकता है। सीएम खट्टर ने कहा, 'भ्रष्टाचार हमेशा से देश की एक बड़ी समस्या रही है। हम कानून, न्याय और दंड के सहारे इस पर लगाम तो लगा सकते हैं, लेकिन पूरी तरह खत्म नहीं कर सकते। इसे पूरी तरह जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए लोगों के जीवन स्तर में सुधार लाना होगा। यह तभी संभव है जब लोग गीता के उपदेशों को अपनाएं।'

राजनीति में 'गीता' के उपदेशों की जरूरत पर जोर देते हुए सीएम खट्टर ने कहा कि 'गीता' राजनेताओं को सही दिशा दिखा सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि कुरुक्षेत्र की पावन धरती पर ही भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को गीता का संदेश दिया था। भगवत गीता में जिंदगी का सार है और इसमें उल्लेखित श्री कृष्ण के उपदेश सिर्फ भारत के लिए ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के लिए है।

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में एक सेमिनार को संबोधित करते हुए खट्टर ने यह बातें कही। अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव के तहत आयोजित हुए इस सेमिनार में 11 देशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद थे। इस समिनार का शीर्षक डिजिटल युग में स्व-अन्वेषण : श्रीमद् भगवत् गीता दर्शन के परिप्रेक्ष्य में था। इस शीर्षक को जायज ठहराते हुए सीएम मनोहर खट्टर ने कहा, 'आज का युग डिजिटल युग है। प्रदेश सरकार गुड गवर्नेंस सुनिश्चित करने के लिए डिजिटाइजेशन की ओर अग्रसर है। प्रशासन में भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए कई ई-इनिशटिव्स लिए गए हैं।' उन्होंने कहा कि प्रदेश के लगभग 1,150 गांवों में कम से कम 183 ई-सर्विसेज उपलब्ध कराई गईं हैं।

कमेंट करें
aVObB