comScore

सेना को मिलेंगे 15000 करोड़ के मॉडर्न हथियार, सरकार की मंजूरी

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 14th, 2018 13:13 IST


Source : Youtube

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने तीनों सेनाओं को अत्याधुनिक हथियारों से लैस करने की अपनी मुहिम के तहत बड़ी रक्षा खरीद को मंजूरी दी है। सरकार ने मंगलवार को 15 हजार 935 करोड़ रुपए के रक्षा सौदों को हरी झंडी दिखाई है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई रक्षा खरीद परिषद (DAC) की बैठक में इन रक्षा खरीद को फायनल किया गया। हालिया आतंकी हमले और पाकिस्तान और चीन से संभावित खतरे को देखते हुए इस बड़ी रक्षा खरीद को मंजूरी दी गई है। पिछले कुछ समय में DAC ने इस तरह की कई रक्षा खरीद को हरी झंडी दिखाई है।

मंगलवार की बैठक में इन रक्षा खरीद को मिली मंजूरी :

  • 12 हजार करोड़ रुपए से अधिक की लागत से 7 लाख 40 हजार असाल्ट रायफलें खरीदी जाएंगी।
  • सेना और वायु सेना के लिए 982 करोड़ रुपए की 5 हजार 719 स्नाइपर रायफलें खरीदी जाएंगी।
  • 1819 करोड़ रुपए की लागत से सेना के लिए लाइट मशीन गन्स की फास्ट ट्रैक आधार पर खरीदी की जाएगी। इस सौदे को सीमावर्ती क्षेत्रों में तैनात सैनिकों की जरूरतों के हिसाब से मंजूरी दी गई है।
  • 850 करोड़ रुपए की लागत से नौसेना के लिए अत्याधुनिक तॉरपीडो प्रणाली खरीदी जाएंगी। 


बता दें कि अत्याधुनिक असाल्ट रायफलों की काफी समय से जरूरत महसूस की जा रही थी। तीनों सेनाओं के जवानों को इन रायफलों से लैस किया जाएगा। रायफलें ‘बॉय एंड मेक इंडियन’ श्रेणी के तहत आयुध फैक्ट्रियों और निजी क्षेत्र से खरीदी जाएंगी। वहीं स्नाइपर रायफलें ‘बॉय ग्लोबल‘ श्रेणी के तहत खरीदी जाएंगी लेकिन इन हथियारों के लिए गोले शुरू में खरीदे जाएंगे और बाद में इन्हें देश में ही बनाया जाएगा। नौसेना के युद्धपोतों की पनडुब्बी रोधी क्षमता बढाने के लिए एडवांस तॉरपीड़ो डिकॉय सिस्टम ‘मारीछ’ की खरीद को मंजूरी दी गई है। मारीच सिस्टम को भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड  850 करोड़ की लागत से नौसेना के लिए तैयार करेगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

loading...