comScore

सिख फॉर जस्टिस को भारत सरकार ने किया बैन, कैप्टन अमरिंद ने किया स्वागत


हाईलाइट

  • पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी करती है मदद
  • न्यू यार्क में रहते हैं संगठन के मुख्य लोग
  • पाकिस्तान में भी प्रतिबंधित है ये संगठन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अलगाववादी एजेंडे पर काम करने वाले खालीस्तानी संगठन सिख फॉर जस्टिस (SFJ) को भारत सरकार ने प्रतिबंधित कर दिया है, जिसका पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्वागत किया है। इस संगठन पर मोदी सरकार के अनुरोध करने के बाद अप्रैल में पाकिस्तान भी प्रतिबंध लगा चुका है। 

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (Inter-Services Intelligence) इस संगठन के सहारे पंजाब में माहौल बिगाड़ने की कई बार कोशिश कर चुकी है। सुरक्षा एजेंसियां सिख फॉर जस्टिस ग्रुप पर लंबे समय से नजर रख रहीं थी। एसएफजे पर आरोप है कि ये संगठन खालिस्तान के लिए होने वाले जनमत संग्रह में आने वाले लोगों को मुफ्त हवाई टिकट मुहैया करा रहा है।
 
केंद्र सरकार के इस निर्णय का स्वागत करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि देश को तोड़ने के लिए काम करने वालों को लेकर सरकार ने अपनी मंशा साफ कर दी है। बता दें कि इस संगठन के कई कार्यकर्ता न्यू यार्क में रहकर संगठन को संचालित करते हैं।

पिछले तीन साल से सक्रिय SFJ संगठन दावा करता है कि उसके दो लाख ऑनलान सपोर्टर हैं, सरकार की नजर इस संगठन के 8-10 मुख्य कार्यकर्ताओं पर है। इस संगठन को न्यूयॉर्क में रहने वाले परमजीत सिंह पम्मा और हरदीप सिंह निजर चलाते हैं। 

एसएफजे की ज्यादातर गतिविधियां ऐसे इलाकों में है, जहां ज्यादा तादाद में सिख आबादी रहती है। यह संगठन जर्मनी, यूके, यूएसए और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में सक्रिय है, इस संगठन के प्रमुख परमजीत सिंह पम्मा 30 जून को हुए भारत-इंग्लैंड के मैच में नजर आए थे।

कमेंट करें
ItkoW