comScore

2024 तक 14 करोड़ घरों में पानी पहुंचाने की योजना पर काम कर रही सरकार


हाईलाइट

  • जल संसाधन मंत्रियों का दिल्ली में हुआ सम्मेलन
  • सिर्फ 18 फीसदी घरों तक पहुंच रहा शुद्ध पेयजल
  • जल संचयन के लिए बनाई विशेष कार्ययोजना

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा है कि उनकी सरकार लगभग 14 करोड़ घरों तक पीने का साफ पानी उपलब्ध कराने की योजना पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने वर्ष 2024 तक हर घर तक पीने का पानी पहुंचाने का लक्ष्य तय किया है।

शेखावत ने यह बात मंगलवार को विज्ञान भवन में आयोजित राज्यों के जल संसाधन मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि सरकार जल संरक्षण तथा भूजल स्तर बढ़ाने की योजना पर गंभीरता से काम कर रही है और इसमें केन्द्र के साथ राज्यों की भागीदारी अहम है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अगले पांच साल में सभी घरों को पीने का साफ पानी उपलब्ध कराने का लक्ष्य तय किया है तो भाजपा के घोषणापत्र में भी यह बात उल्लिखित है।

इस समय देश में ऐसे 14 करोड़ घर शेष हैं, जहां साफ पेयजल पहुंचाना बाकी है। बैठक में पश्चिम बंगाल को छोड़कर सभी राज्यों के जलापूर्ति मंत्रियों और संबंधित अधिकारियों ने शिरकत की। केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि इस समय देश के 18 फीसदी घरों तक ही शुद्ध पेयजल उपलब्ध है, जिसे 100 फीसदी तक ले जाना है।

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में पानी की उपलब्धता और इसकी जरूरत के बीच 43 फीसदी का अंतर रहने का अनुमान है। इस समस्या के समाधान के लिए जरूरी है कि पानी को लेकर केन्द्र और राज्य मिलकर काम करें। पानी के संरक्षण पर जोर देते हुए शेखावत ने कहा कि पानी को बेकार होने से बचाना होगा और जल संचयन के लिए विशेष कार्ययोेजना बनाकर काम करना होगा।

कमेंट करें
Ykszy