comScore
Dainik Bhaskar Hindi

स्टेशन पर भूख से बिलखती रही 15 दिन की नवजात बच्ची, छोड़कर भागे माता-पिता

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 11th, 2019 22:12 IST

2.7k
0
0
स्टेशन पर भूख से बिलखती रही 15 दिन की नवजात बच्ची, छोड़कर भागे माता-पिता

डिजिटल डेस्क, नरसिंहपुर/करेली। देखने में बिल्कुल परी जैसी, जो भी देखता अपनी गोद में उठाने के लिए उत्सुक हो जाता। 15 दिन की नवजात बच्ची को निर्दयी माता-पिता कड़कड़ाती ठंड में स्टेशन पर छोड़कर भाग गए। भूख से बिलकती बच्ची की जब रोने की आवाज लोगों ने सुनी, तो इसकी सूचना तत्काल जीआरपी को दी। जीआरपी ने बच्ची के माता-पिता को ढूंढा, लेकिन वे नहीं मिले। बच्ची को चिकित्सा के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लोगों का कहना है कि बच्ची को बोझ समझकर उसके माता-पिता स्टेशन पर छोड़कर चले गए हैं। यदि बच्ची को समय पर अस्पताल न पहुंचाया जाता, तो बच्ची की हालत बिगड़ सकती थी।

गैरों ने बचा ली बच्ची की जान
रात्रि करीब 12:30 बजे रेल्वे स्टेशन पर जागरुक नागरिकों में विवेक खासकलम, शील दुवे, अरविंद चौरसिया ने काफी देर तक बच्ची की रोते हुए देख आसपास परिजनों की तलाश की। तत्पश्चात जीआरपी पुलिस को लावारिश बच्ची की सूचना दी। साथ ही स्वास्थ्य केंद्र जाकर भर्ती भी कराया। जहां ड्यूटी डॉक्टर ने तेज बुखार और ठंड से पीड़ित बच्ची को जननी एक्सप्रेस से तत्काल ही नरसिंहपुर नवजात शिशु गहन चिकित्सा केंद्र रेफर कर दिया। जिसकी हालत सोमवार को सामान्य बतायी गयी है डॉ ने बताया कि यदि थोड़ी और देरी हो जाती तो तेज ठंड से बच्ची की हालत बिगड़ भी सकती थी।

इनका कहना है
रात करीब 1 बजे 15 दिन की नवजात बच्ची को लाया गया था जो भूख और तेज बुखार से पीड़ित थी गहन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय रेफर किया गया और सोमवार को उसकी हालत में भी काफी सुधार हुआ है।
डॉ मधूसूदन उपाध्याय डयूटी डॉक्टर करेली अस्पताल

रात्रि करीब 12 से 1 बजे प्लेट नम्बर एक पर नवजात बच्ची के रोने की आवाज सुनकर परिजनों को ढूंढा, जिसके बाद जीआरपी को सूचित कर अस्पताल भेजा जिसे देखकर स्पष्ट लग रहा था कि इस नवजात शिशु को कोई लावारिश छोड़कर भाग गया है।
विवेक खासकलम, प्रत्यक्षदर्शी

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download