comScore

बारिश से बेहाल वडोदरा, सीएम रुपाणी ने की समीक्षा, NDRF की टीमें तैनात

बारिश से बेहाल वडोदरा, सीएम रुपाणी ने की समीक्षा, NDRF की टीमें तैनात

हाईलाइट

  • : वडोदरा और आस-पास के क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश ने बाढ़ जैसी स्थिति पैदा कर दी, मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने बुधवार को शहर में स्थिति की समीक्षा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की और स्थानीय प्रशासन को मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए दो आईएएस अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की
  • वडोदरा और आस-पास के क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात
  • मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने स्थिति की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठक की

डिजिटल डेस्क, गांधीनगर। गुजरात के वडोदरा और इसके आस-पास के क्षेत्रों में भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सड़कों से लेकर लोगों के घरों में पानी भर गया है। सड़क और हवाई यातायात ठप पड़ गया है। सड़कों में जलभराव के चलते लोगों के वाहन फंस गए हैं। शहर के 6 ब्रिज को बंद कर दिया गया है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने स्थिति की समीक्षा के लिए बुधवार को उच्च स्तरीय बैठक की और स्थानीय प्रशासन को मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए दो आईएएस अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है। लोगों को बचाने के लिए एनडीआरएफ की टीमें भी तैनात की गई हैं।

डीएम ने सभी सरकारी, प्राइवेट और वीएमसी के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है। आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन ने 24 घंटे एक्टिव रहने वाले इमरजेंसी कंट्रोल रूम को शुरू किया है। NDRF की टीम वडोदरा में भारी बारिश की वजह से बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने में जुटी हुई है।

वडोदरा में बारिश की स्थिति पर सीएम विजय रुपाणी ने उच्च स्तरीय बैठक की। इस दौरान सीएम ने स्थानीय प्रशासन को मदद करने के लिए दो आईएएस अधिकारियों को जिम्मेदारी दी। सीएम ने लोगों से निचले इलाके से शिफ्ट होने की भी अपील की है।

गुजरातः वडोदरा में भारी बारिश के बाद जलजमाव।

बारिश के बाद अहमदाबाद में जलजमाव।

वडोदरा रेलवे स्टेशन को बंद कर दिया गया है। करीब 22 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है, जबकि दो उड़ानों को जलभराव के कारण अहमदाबाद में डायवर्ट किया गया है। वड़ोदरा हवाई अड्डे पर शुक्रवार सुबह 9 बजे तक के लिए परिचालन बंद कर दिया गया है।

भारतीय मौसम विभाग ने गुजरात के अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग ने कहा, 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरात-महाराष्ट्र-गोवा तटों पर हवाएं चलने की संभावना है। मछुआरों को इन क्षेत्रों में न जाने की सलाह दी गई है।

कमेंट करें
yv6UJ