comScore

35 हलाला पीड़ित महिलाओं ने सरकार से लगाई गुहार- बंद हो कुप्रथा

July 10th, 2018 09:28 IST
35 हलाला पीड़ित महिलाओं ने सरकार से लगाई गुहार- बंद हो कुप्रथा

डिजिटल डेस्क, बरेली। निकाह हलाला और ट्रिपल तलाक की 35 पीड़ित महिलाओं ने सरकार से इस प्रथा को बंद करने के लिए कड़े कदम उठाने की मांग की है। इन कुरीतियों की शिकार 35 महिलाओं ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इंसाफ की गुहार लगाई। हलाला पीड़ित एक महिला सबीना ने कहा कि ये तथाकथित परंपराएं शरीयत के नाम पर महिलाओं के शोषण के अलावा और कुछ भी नहीं है। सबीना ने उसके साथ हुई दरिंदगी को लेकर किला थाने में FIR दर्ज करवाई है। वह अब सरकार से इंसाफ की गुहार लगा रही है।

देवर के साथ हलाला का दबाव
तलाक पीड़िता सबीना की कहानी दर्द भरी है। दरअसल सबीना की शादी 2009 में बानखाना के वसीम हुसैन के साथ हुई थी। शादी के 2 साल बाद भी जब कोई बच्चा नहीं हुआ तो उसके पति ने उसे तलाक दे दिया। इसके बाद दोबारा शादी की बात कह कर ससुर जमील हुसैन से उसका हलाला किया गया। वादे के मुताबिक पति ने सबिना से शादी तो की लेकिन 2017 में एक बार फिर उसने तलाक दे दिया। एक बार फिर अब वसीम उसे अपने साथ रखना चाहता है, लेकिन इस बार शर्त रखी कि उसके भाई (देवर) के साथ हलाला करना होगा। इसके बाद ही वो शादी करके अपने साथ रखेगा।

सबीना का शर्त मानने से इनकार
सबीना फिलहाल अपनी बहन के घर पर रह रही है। उसने वसीम की शर्तों को मानने से साफ तौर पर इनकार कर दिया है। थाने में FIR दर्ज कराने के बाद अब सबीना को उम्मीद है कि उसे इंसाफ मिलेगा। सबीना एक अकेली ऐसी महिला नहीं है जो हलाला की शिकार बनी है। देश में रोजाना कई मुस्लिम महिलाएं इसका शिकार बन रही है। लेकिन समाज के दबाव में वह आवाज उठाने की हिम्मत नहीं करती। 

कमेंट करें
mQBK5