comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कोच पर महिला टीम में दरार, स्मृति और हरमनप्रीत ने पोवार का किया सर्मथन

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 04th, 2018 15:04 IST

2.3k
0
0

News Highlights

  • एकता बिष्ट, मानसी जोशी और मिताली राज दोबारा रमेश पोवार के कोच पद पर आने के खिलाफ


डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। कोच रमेश पोवार के कार्यकाल के समाप्त हो जाने के बाद सोमवार को भारतीय महिला क्रिकेट टीम बंटी हुई दिखाई दे रही है। टी-20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंधाना ने कोच रमेश पोवार को वापस लाने की मांग की है। प्रशासकों की समिति (सीओए) के अध्यक्ष विनोद राय ने बाताया कि, पोवार को 2021 तक कोच बनाने का स्मृति और हरमनप्रीत ने सर्मथन किया है। भारतीय महिला टीम के कोच के लिए बीसीसीआई ने नए आवेदन लेना शुरू कर दिया है। 

वहीं कोच रमेश पोवार की बात करें तो उनका अंतरिम कार्यकाल 30 नवंबर को ही खत्म हो चुका है। बीसीसीआई ने पोवार को दोबारा कोच पद पर आवेदन करने के लिए स्वतंत्र बताया है। विनोद राय ने बताया है कि, हरमनप्रीत और स्मृति चाहती हैं कि रमेश पोवार कोच पद पर बने रहें। इसके लिए दोनों खिलाड़ियों ने बीसीसीआई के पदाधिकारियों को पत्र लिख कर इसकी मांग कि है।

हरमनप्रीत ने सोमवार को जो पत्र लिखा है उसकी प्रति पीटीआई के पास मौजूद है। भारतीय टीम में से हरमनप्रीत और स्मृति ने पोवार को वापस कोच पद पर लाने का समर्थन किया है। वहीं टीम कि एकता बिष्ट, मानसी जोशी और मिताली दोबारा रमेश पोवार के कोच पद पर आने के खिलाफ हैं।

हरमनप्रीत ने पत्र में लिखा है कि, T-20 और वन-डे टीम की उप कप्तान के रूप में मैं आपसे रमेश पोवार को दोबारा कोच पद सौंपने कि मांग करती हुं। मेरी इस मांग को स्वीकृति प्रदान कि जाए। हरमनप्रीत ने कहा, अगले T-20 वर्ल्ड कप में केवल 15 महीने बचे हुए हैं। वहीं अगले महीने टीम को न्यूजीलैंड दौरे पर भी जाना है।

उन्होंने कहा जिस तरह रमेश पोवार ने हमें कोच किया है और जिस तरह के बदलाव वे हमारे अंदर लेकर आए हैं। उस हिसाब से उन्हें बदलने का मुझे कोई कारण दिखाई नहीं देता। बीसीसीआई के पदाधिकारियों को दिए गए इस पत्र में हरमनप्रीत और स्मृति ने लिखा है कि, अगस्त में पोवार की कोच के रूप में नियुक्ति हुई थी तबसे लेकर अब तक टीम में काफी सुधार आया है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें