comScore
Dainik Bhaskar Hindi

ये उपाय अपनाएं और दिमाग की बत्ती जलाएं

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 30th, 2018 14:12 IST

7.8k
0
0
ये उपाय अपनाएं और दिमाग की बत्ती जलाएं

डिजिटल डेस्क,भोपाल। आजकल की कॉम्पटीशन भरी लाइफ में तनाव इतना बढ़ गया है कि कितनी भी तैयारी कर लें, लेकिन परीक्षा और ऑफिस की मीटिंग में आता हुआ जवाब भूल ही जाते हैं। चाहे आप किसी भी क्षेत्र में क्यों ना हो हर जगह तेज दिमाग की जरूरत पड़ती ही है। बेहतर काम वही कर पाते हैं जिनका दिमाग काफी तेज हो। पढ़ाई का क्षेत्र हो या जॉब का,आज के दौर में हर कोई औरों से आगे निकलने के लिए तेज दिमाग चाहता है, लेकिन हमारी खराब जीवनशैली की वजह से हमारे जीवन में तनाव बढ़ गया है और मेमोरी कमजोर होती जा रही है। 

आइन्स्टीन, चाणक्य आदि कोई विशेष दिमाग लेकर नहीं आए थे, बस उनमें और साधारण मानव में इतना अंतर था कि वे अपने दिमाग को अन्य मनुष्यों से ज्यादा इस्तेमाल करना जानते थे। इसका एक ही कारण था दिमाग को एकाग्र कर किसी विषय पर लगाने की क्षमता। अगर ये क्षमता हर व्यक्ति को मिल जाए तो हर कोई अपने क्षेत्र में सफलता के झंडे गाड़ सकता है। हम आपको वो क्षमता तो नहीं दे सकते, लेकिन आपको कुछ ऐसे तरीके बता सकते हैं जिनसे आप उस दिशा में अपनी स्मरण शक्ति को बढ़ा सकें। 

दिमाग कमजोर होने के कारण, जिनसे आपको दूर रहना है 

  • भरपूर नींद न लेना
  •  ब्रेकफास्ट न करना
  • ज्यादा भोजन करना
  •  कम पानी पीना
  •  मल्टीटास्किंग: एक समय पर एक से अधिक काम में दिमाग लगाना
  •  स्मोकिंग करना
  •  तनाव में रहना

स्मरण शक्ति को ऐसे बढ़ाए 

चुइंगम -कई शोधों में यह प्रमाणित हो चुका है कि 20 से 30 मिनट तक चुइंगम चबाने से दिमाग तेज काम करता है। अगर चुइंगम आपको पसंद नहीं है तो बिना चुइंगम खाते ही मुंह चलाने का अभ्यास भी उतना ही फायदेमंद है।

भोजन- स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए आवश्यक है उचित आहार और पोषक तत्वों की शरीर में संतुलित प्रचुरता। दिमाग को रीकॉल प्रोसेस के लिए पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है,उन पोषक तत्वों को पूरा करने के लिए उचित आहार लें।

मेहंदी लगाए- मेहंदी और याददाश्त का कनेक्शन बहुत पुराना है। मेहंदी के पत्तों में बहुत शक्ति होती है। इसकी महक में कारनोसिक एसिड पाया जाता है। जिससे दिमाग की मांसपेशियां एक्टिव होती है। इससे खोई हुई याददाश्त भी वापस आ सकती है, इसलिए बालों में मेहंदी लगाना चाहिए, इसका आयुर्वेद में भी इसका जिक्र किया गया है।

ब्रेन गेम्स- आज कल बाज़ार ऐसे खिलौनों से भरा है, जो आपके बच्चे के मानसिक विकास में सहायक हैं। आप उम्र के अनुसार ब्रेन गेम्स लेकर दें और साथ में स्वयं भी खेलें। इससे उन्हें आपकी मदद भी मिलेगी।

डार्क चॉकलेट- इसे खाने से दिमाग़ी की कार्य शक्ति बढ़ती है और मेमोरी बूस्ट होती है। इसका सेवन ज़्यादा नहीं करें, क्योंकि इससे वजन भी बढ़ता है।

बादाम-रात को सोने से पहले 5 बादाम पानी में भिगोकर रख दें और सुबह छिलका उतारकर पेस्ट बना लें। 2 चम्मच शहद और बादम के पेस्ट को 1 गिलास गुनगुने दूध में मिलाकर पिएँ। दूध पीने के 1 घंटे तक कुछ खाएँ पिएँ नहीं। आप बादाम के पेस्ट को मक्खन और मिसरी के साथ भी मिलाकर खा सकते हैं। रोज़ इस उपाय को करने से दिमाग तेज होता है।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें