comScore
Dainik Bhaskar Hindi

वर्षा के साथ गिरे ओले,फसलों का जबरदस्त नुकसान

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2019 20:14 IST

1.6k
0
0
वर्षा के साथ गिरे ओले,फसलों का जबरदस्त नुकसान

डिजिटल डेस्क  छिन्दवाड़ा/चौरई। पश्चिमी विक्षोभ के चलते बुधवार को चौरई अंचल में मौसम ने फिर तबाही मचाई। कई स्थानों पर बारिश के साथ चने के बराबर ओले गिरे। 11 दिन पहले 2 फरवरी को जिले के अधिकांश हिस्सों में जबरदस्त ओलावृष्टि हुई थी, लेकिन चौरई क्षेत्र में केवल बारिश होने से ज्यादा नुकसान नहीं हो पाया था। किसान खेतों में पकने की कगार पर खड़ी फसल की कटाई की तैयारी में जुटे थे। इसी बीच बुधवार को मौसम ने सपनों पर पानी फेर दिया।

शुरू हो चुकी है गेहूं की कटाई
बुधवार को सुबह से खुले मौसम के साथ तीखी धूप भी नजर आ रही थी। कई खेतों में गेहूं की कटाई का काम शुरू हो गया था। दोपहर बाद अचानक मौसम के तेवर बदल गए। अपरान्ह चार बजे तक आसमान काले बादलों से ढंक गया। किसान काटे गए गेहूं को समेट पाते इससे पहले ही बूंदाबांदी शुरू हो गई। लगभग 5 बजे कुंडा और आसपास गांवों में बारिश के साथ ओले गिरे। तेज हवा और बारिश से फसलों को नुकसान हुआ है। सबसे ज्यादा नुकसान गेहूं की फसल में हुआ है। इसके अलावा सब्जी फसलों में नुकसान की खबरें मिली हैं। सूचना मिलने पर राजस्व अधिकारियों ने नुकसान का जायजा लेने के लिए पटवारियों को सर्वे करने के लिए निर्देशित किया है।

बारिश के साथ ही बिजली गुल
चौरई नगर में शाम को बिजली की चमक के साथ बारिश हुई। जिससे बिजली भी गुल होती रही। क्षेत्र में बिजली व्यवस्था इस कदर चरमरा गई है कि आंधी तूफान और बारिश शुरू होते ही अघोषित कटौती शुरू हो जाती है। चौरई में जेई सहित अन्य अधिकारी इसका जबाब देने से बचते रहते है। बुधवार को भी बारिश का शुरू होते ही नगर सहित आसपास के हिस्सों में बिजली गुल हो गई।राजस्व अधिकारियों ने नुकसान का जायजा लेने के लिए पटवारियों को सर्वे करने के लिए निर्देशित किया है।

 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download