comScore

स्टेशन पर अलर्ट, स्टेशन के कोने-कोने व आने वाली गाड़ियों पर बारीकी से नजर

स्टेशन पर अलर्ट, स्टेशन के कोने-कोने व आने वाली गाड़ियों पर बारीकी से नजर

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर रेलवे स्टेशन पर धम्मचक्र प्रवर्तन दिवस व दशहरे के लिए दूर दराज से नागपुर स्टेशन पर यात्रियों का आना होता है। रोज की तुलना में दुगनी भीड़ बढ़ने से सुरक्षा व्यवस्था को पहले से तैयार रहना पड़ता है। ऐसे में इस बार रेलवे पुलिस के सामने 75 हजार से ज्यादा लोगों का टारर्गेट रखा गया है। 300 के करीब जीआरपी, स्पेशल व आरपीएफ के जवान तैयार हैं। इसके अलावा रेलवे विभाग ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त इंतजाम किये हैं। जिसमें मुंबई, पुणे आदि के लिए स्पेशल अनारक्षित गाड़ियां, स्टेशन पर खान-पान व्यवस्था व प्राथमिक उपचार के लिए चिकित्सकीय व्यवस्था आदि शामिल है।

बता दें कि नागपुर रेलवे स्टेशन व्यस्त स्टेशनों की लिस्ट में शामिल है। यहां रोजाना 25 हजार से ज्यादा यात्रियों की मौजूदगी रहती है। जिसके लिए सौ से ज्यादा आरपीएफ का स्टाफ व लगभग इतना ही जीआरपी का स्टाफ सक्रिय रहता है। लेकिन त्योहारों में यात्रियों की संख्या बढ़ जाती है। जिससे स्टाफ की संख्या बढानी पड़ती है। वहीं पहले से सुरक्षा की नीति भी निर्धारित की जाती है। धम्मचक्र प्रवर्तन दिवस के अवसर पर देश के हर क्षेत्र से नागपुर के पावन दीक्षाभूमि में अनुयायी बड़े पैमाने पर आते हैं। कुछ निजी वाहनों  से आते हैं लेकिन अधिकांश अनुयायी ट्रेनों के सहारे ही यहां पहुंचते हैं। ऐसे में स्टेशन पर प्रति वर्ष एक लाख के करीब यात्री नागपुर स्टेशन पर पहुंच जाते हैं। जिन्हें संभालने के लिए पुलिस को पहले से प्लानिंग करनी होती है। इस बार रेलवे के खुफिया विभाग ने 75 हजार से ज्यादा यात्रियों की मौजूदगी की जानकारी दी गई है। जिसके लिए रेलवे विभाग के साथ रेलवे सुरक्षा ने अतिरिक्त मैन पॉवर बुलाया गया है। गत वर्ष की बात करें तो 96 हजार से ज्यादा यात्री नागपुर स्टेशन पर आये थे।
 
अलर्ट पर स्टेशन 

नागपुर रेलवे स्टेशन को दशहरा व धम्मचक्र प्रवर्तन दिवस को लेकर अलर्ट दे दिया गया है। ऐसे में सोमवार को परिसर की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है। सिपाहियों के काम का समय बढ़ा दिया है। वहीं बीडीडीएस व डॉग स्कॉड को परिसर में मौजूद रखा गया है। स्टेशन पर आनेवाली हर गाड़ियों की जांच पड़ताल हो रही है।  यात्रियों की लगेज की भी जांच हो रही है। संदेहास्पद स्थिति में घूम रहे लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। स्टेशन पर आनेवाली गाड़ियों में विशेष टीम द्वारा नजर रखी जा रही है। गाड़ी के भीतर मेटल डिटेक्टर से जांच हो रही है।  गाड़ियों के नीचे भी बारीकी से नजर रखा जा रहा है। मुख्य द्वार पर स्कैनर मशीनों से यात्रियों की बैग चेक हो रही है। इसके अलावा प्लेटफार्म पर श्वान की मदद से भी बैग की जांच-पड़ताल की जा रही है। इसी तरह अजनी रेलवे स्टेशन पर भी सिपाहियों की संख्या बढ़ा दी है।

कमेंट करें
I90j6