comScore
Dainik Bhaskar Hindi

फिल्म ‘रामजन्मभूमि’ पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, 6 दिसंबर को होनी थी रिलीज

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 05th, 2018 21:25 IST

1.3k
0
0
फिल्म ‘रामजन्मभूमि’ पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, 6 दिसंबर को होनी थी रिलीज

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बांबे हाईकोर्ट ने फिल्म ‘रामजन्मभूमि’ के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है। हाईकोर्ट ने कहा कि जब तक केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) फिल्म का परीक्षण नहीं कर लेता, तब तक इस फिल्म को प्रदर्शित न किया जाए। हाईकोर्ट ने फिल्म के पोस्टर व ट्रेलर के प्रदर्शन पर भी रोक लगाई है। इसके साथ ही यू-ट्यूब से भी फिल्म से जुड़ी सामग्री को हटाने का निर्देश दिया है। बुधवार को न्यायमूर्ति बीपी धर्माधिकारी व न्यायमूर्ति सारंग कोतवाल की खंडपीठ ने याचिकाकर्ता के वकील हसनैन काजी की दलीलों को सुनने के बाद उपरोक्त निर्देश दिया। सुनवाई के दौरान काजी ने कहा कि फिल्म में काफी आपत्तिजनक दृश्य हैं, जो नियमों का उल्लंघन है। इसलिए फिल्म के सेंसर बोर्ड द्वारा परीक्षण पूरा होने तक फिल्म के प्रदर्शन को मंजूरी न दी जाए। गुरुवार, 6 दिसंबर को इस फिल्म का प्रदर्शन प्रस्तावित था।

हाईकोर्ट में याचिका दायर

सामाजिक कार्यकर्ता अजहर तांबोली ने इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। फिल्म के पोस्टर व ट्रेलर से आहत तांबोली ने याचिका में दावा किया है कि फिल्म लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाती है। याचिका में कहा गया है फिल्म का विषय बेहद संवेदनशील है। इसमें बाबरी मस्जिद के विध्वंश के बाद हिंदु-मुस्लिम समुदाय के बीच हुए ध्रुवीकरण को दर्शाया गया है। 

‘केदारनाथ’ पर रोक के लिए याचिका

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अभिनीत फिल्म ‘केदारनाथ’ के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग को लेकर बांबे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। यह याचिका पेशे से वकील रमेश चंद्र मिश्रा ने दायर की है। याचिका में कहा गया है कि केदारनाथ हिंदु धर्म से जुड़े लोगों के लिए पवित्र स्थल है। यह चारधामों में से एक है। ऐसे पवित्र स्थल के नाम पर प्रेमकथा पर आधारित फिल्म क्यों बनाई गई है। यह हिंदु समुदाय के लोगों की अस्था को ठेस पहुंचाता है। इसलिए केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड यानी सेंसर बोर्ड जब तक दोबारा फिल्म का परीक्षण नहीं कर लेता है, तब तक फिल्म के प्रदर्शन को मंजूरी न दी जाए। 
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें