comScore

हिमाचल: 2 भीषण सड़क हादसे, सिरमौर-खोलगली में खाईं में गिरे वाहन, 14 की मौत

May 13th, 2018 17:33 IST

डिजिटल डेस्क, शिमला। हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में रविवार को एक सवारी बस खाई में गिर गई। इस हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई है, जबकि अनेक लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उपचार करने वाले चिकित्सकों ने बताया कि घायलों में कई लोगों की हालत गंभीर है। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। पुलिस और सुरक्षा दल बचाव कार्य में लगे हुए हैं।

नियंत्रण खोने से हुआ हादसा

पुलिस ने बताया कि हादसा सिरमौर जिले में राजगढ़ से लगभग 25 किमी दूर सनौरा नेरी पुल पर नेईनेटी के पास हुआ। हादसे के समय बस मानवा से सोलन जा रही थी। अचानक अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। बताया जाता है कि हादसे का शिकार होने वाली बस में 26 लोग सवार थे। हादसा इतना भयानक था कि बस के परखच्चे उड़ गए। जेसीबी मशीन से बस को हटाया गया है और शवों को बाहर निकाला जा रहा है। डीसी सिरमौर ललित जैन ने हादसे की पुष्टि की है। मृतकों के परिजनों को 10-10 हजार जबकि घायलों को 5-5 हजार की तात्कालिक राहत जारी की गई है।

हादसे से एक मोड़ पहले एक भाई उतरा दूसरा चढ़ा 

जिस मोड़ पर बस हादसे का शिकार हुई, उससे एक मोड़ पहले एक भाई बस से उतरा तो उसका दूसरा भाई बस में चढ़ा। जब घर पहुंचने से पहले ही बस के खाई में गिरने की खबर पहुंची तो वह उलटे पांव घटना स्थल पर पहुंचा। उसने देखा कि वहां चींख-पुकार और अफरा-तफरी का माहौल था। अचानक उसकी नजर अपने भाई पर पड़ी, जिसकी सांसे चल रही थी तब उसकी जान में जान आई। तब तक गांववासी भी वहां पहुंच चुके थे और बचाव कार्य शुरू कर दिया। 

बढ़ सकती है मृतकों की संख्या

पुलिस ने बताया कि बताया जाता है कि यह निजी बस भगनाल कोच की थी, जिसमें करीबन 26 लोग सवार थे। बताया जा रहा है कि बस अचानक पीछे को खिसकने लगी थी जिस पर चालक नियंत्रण नहीं रख पाया और वह सीधे गहरी खाई में जा गिरी। अब यह बस पीछे को क्यों लुढ़की और ड्राइवर उस पर नियंत्रण क्यों नहीं कर पाया। इसकी जांच की जा रही है। एसडीएम राजगढ़ पुलिस के साथ मौके पर मौजूद है। उनके नेतृत्व में बचाव कार्य किया जा रहा है। हादसे में मरने वाले लोगों की संख्या अभी बढ़ सकती है। 

32 दिन पहले हादसे में हुई थी 30 लोगों की मौत

इस हादसे से पहले 10 अप्रैल को हिमाचल के कांगड़ा के नूरपुर में स्कूल बस के दुर्घटनाग्रस्त होने से 30 लोगों की मौत हो गई थी। इनमें 27 बच्चे दो टीचर, एक ड्राइवर शामिल थे। बस में कुल 37 लोग सवार थे। संकरे रास्ते में एक मोटरसाइकिल वाले को साइड देते वक्त बस अनियंत्रित होकर 200 फीट गहरी खाई में गिर गई थी।

दूसरी घटना शिमला के पास घटी

दूसरा हादसा शिमला से करीब 42 किमी दूरी पर खोलगली के पास हुआ। जहां एक जेन एस्टिलो कार करीब 300 फीट गहरी खाई में गिर गई। हादसे में कार में सवार सभी 6 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक कार (HP 63B 0227) में सवार 6 लोग जड़ोग-साहली से क्यार की तरफ जा रहे थे।

खोलगली के पास कार के साथ भयानक हादसा हो गया। पुलिस को अभी तक सिर्फ एक मृतक की पहचान उसके आधार कार्ड से हो पाई है। मृतक का नाम जयकिशन (22) है। इस आधार कार्ड की मदद से ही वह बाकी लोगों के परिजनों से संपर्क साधने की कोशिश कर रही है। शवों को खाई से बाहर निकाल लिया गया है और पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा है। अभी हादसे का कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।

हिमाचल के बड़े बस हादसे

अप्रैल 2011: चंबा में बस गिरने से 32 लोगों की मौत। 

सितंबर 2011: कांगड़ा में बस हादसे में 34 मौतें। 

अगस्त 2012: चंबा में बस गिरने से 47 की मौत। 

अप्रैल 2017: शिमला जिले के गुम्मा में बस गिरने से 46 मौतें। 

मई 2017: मंडी में व्यास नदी में बस गिरने से 16 मौतें। 

जुलाई 2017: रामपुर में बस गिरने से 20 की मौत।

अप्रैल 2018 : कांगड़ा में बस हादसे में 27 बच्चों समेत 30 की मौत।


 

कमेंट करें
E6aoc