comScore

इस होली पर 28 साल बाद बन रहा खास योग, जानिए किस राशि पर क्या रहेगा असर

February 23rd, 2018 21:25 IST

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  होली पर इस साल एक विशेष योग बन रहा है। होली पर शनि धनु राशि में रहेगा। इससे पहले 1990 में योग बना था। 28 वर्षों के बाद शनि देवगुरु बृहस्पति की राशि में है। गुरुवार, 1 मार्च की रात होलिका दहन होगा और शुक्रवार, 2 मार्च को होली खेली जाएगी। पं. ओम शर्मा के अनुसार होली पर पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र रहेगा। इसका स्वामी शुक्र है। इस नक्षत्र में जब चंद्रमा सिंह राशि में होता है, तब यह पर्व मनाया जाता है। कुछ राशियों के लिए होली पर खुशियों के रंग लेकर आएंगी तो कुछ को कम खुशियां नसीब होगी। इसी के साथ बसंत ऋतु का भी आगमन होता है। इस बार होली व्यापार के लिए बड़ी लाभदायक रहेगी। मंदी का दौर धीरे-धीरे खत्म होने लगेगा।  आय में वृद्धि होने के संकेत भी हैं। 

मेष- चंद्र का गोचर पंचम रहेगा, जिससे आपके जीवन में खुशियां बढ़ेंगी। भावनात्मक और आर्थिक सुरक्षा जरूरत महसूस होगी। लक्ष्य पर ध्यान देने से लाभ होगा। 
क्या करें- गणेशजी को मिश्री का भोग लगाएं।
वृषभ-चतुर्थ चंद्र और मंगल की दृष्टि से आर्थिक लाभ का होने के योग बन रहे हैं। परिवार से खुशियां मिलेगी। अचानक किसी काम में सफलता मिल सकती है। 
क्या करें- दुर्गाजी के सामने घी का दीपक जलाएं।
मिथुन- आपकी राशि का स्वामी बुध नवम और चंद्रमा तृतीय रहेगा। प्रसन्नता बढ़ेगी। धन प्राप्ति का योग बनेगा। कार्यस्थल और लक्ष्य में सफलता मिलेगी।
क्या करें- शिवलिंग पर दूध चढ़ाएं।
कर्क- आपकी राशि से चंद्रमा दूसरे भाव में रहेगा। समय पहले से अच्छा रहेगा। स्वयं पर ध्यान देना होगा। संबंधों का लाभ नहीं मिल पाएगा। आय में वृद्धि होगी।
क्या करें- हनुमानजी के सामने घी का दीपक जलाएं और लाल फूल चढ़ाएं।
सिंह- इस राशि में चंद्रमा का गोचर और राशि स्वामी सूर्य की दृष्टि है। मन के अनुसार काम नहीं कर पाएंगे और खर्चे भी ज्यादा हो सकते हैं। बुद्धि कौशल श्रेष्ठ रहेगा।
क्या करें- गणेशजी को दूर्वा अर्पित करनी चाहिए।
कन्या- यह समय संभलकर रहने का है। राशि स्वामी बुध है और अभी मित्र राशि में होने से लाभ के आसार बन सकते हैं। परिवार से सहयोग मिलेगा। यात्रा का योग है।
क्या करें- शिव-पार्वती की पूजा करें।
तुला- गुरु की वजह से स्थिति में सुधार होगा। चिंताएं बनी रहेंगी, लेकिन हिम्मत भी बनी रहेगी। चंद्र का गोचर भी अनुकूलता प्रदान करेगा। सहयोग की प्राप्ति होगी। 
क्या करें- 108 बार ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें।
वृश्चिक- दशम चंद्रमा की वजह से समय नकारात्मक हो सकता है। चिंताएं अधिक रहेंगी। व्यय बढ़ सकता है। रंगपंचमी से भाग्य का साथ मिल सकता है। बाधाएं समाप्त होंगी।
क्या करें- गाय को हरा चारा खिलाएं।
धनु- नवम चंद्र रहेगा और मित्र शनि का गोचर हो रहा है। काम की अधिकता रहेगी एवं आय भी बनी रहेगी। काम समय पर पूरे होंगे और सहयोग भी प्राप्त होगा। 
क्या करें- हनुमानजी को सिंदूर एवं तेल अर्पण करें।
मकर-समय पूर्णत: पक्ष का नहीं है। राशि के मित्र केतु का गोचर होने से कुछ बाधाएं हो सकती हैं। चंद्रमा की वजह से नकारात्मक फल मिल सकते हैं। व्यय अधिक होंगे। 
क्या करें- रोज श्रीराम दरबार का दर्शन करें, इसके बाद की शुरुआत करें।
कुंभ- सूर्य, बुध और शुक्र का गोचर है। साथ ही, चंद्रमा की दृष्टि भी रहेगी। इससे परेशानियां दूर होंगी। किसी मांगलिक कार्य पर खर्च करना पड़ सकता है। आय होगी। 
क्या करें- शनिवार को पीपल के पास घी का दीपक जलाएं।
मीन- आपकी राशि के लिए चंद्रमा षष्ठम रहेगा। ऊर्जा अधिक रहेगी। गुस्सा जल्दी आ सकता है। ज्यादा सक्रिय रहेंगे। धैर्य की कमी रहेगी। जल्दबाजी में गलत फैसले न लें।
क्या करें- शिव चालीसा का पाठ करें।
 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 38 | 21 April 2019 | 04:00 PM
SRH
v
KKR
Rajiv Gandhi Intl. Cricket Stadium, Hyderabad
IPL | Match 39 | 21 April 2019 | 08:00 PM
RCB
v
CSK
M. Chinnaswamy Stadium, Bengaluru