comScore
Dainik Bhaskar Hindi

WORLD के इस खूबसूरत देश में पिंजरे में रहते हैं लोग

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 30th, 2017 14:00 IST

732
0
0

डिजिटल डेस्क, विक्टोरिया सिटी। आपने जानवरों को पिंजरे में रहते हुए देखा होगा। अपने पालतु पशु-पक्षियों को भी पिंजरे में रखा जाता है, लेकिन लगातार विकास की ओर आगे बढ़ रही दुनिया में आज भी कहीं न कहीं ऐसे नजारे देखने मिल जाते हैं, जिन विश्वास करना करना मुश्किल होता है। आज हम बात कर रहे हैं हांगकांग की। जहां करीब एक लाख लोग पिंजरे नुमा घर में रहने मजबूर हैं। हांगकांग वैसे तो एक बेहतर लाइफस्टाइल के लिए जाना जाता है, लेकिन यहां रहने के लिए घरों कमी के चलते लोहे के पिंजरे नुमा मकानों में लोग रहते हैं। इन पिंजरे वाले घरों में रहना भी इतना आसान नही है। यहां रहने वालों को इसके लिए भी कीमत अदा करनी होती है।

ये पिंजरे घर 11 हजार रुपए तक में अच्छे से अच्छे मिल जाते हैं। यहां अंदर ही सोने, कपड़े रखने, बैठने की व्यवस्था होती है। हालांकि ठंड के सीजन में इसमें कुछ परेशानी का भी अनुभव होता है, लेकिन इसके बाद भी लोग इनमें रहने मजबूर हैं। 

घरों को खरीदने में सक्षम नही

दुनियाभर में खूबसूरती के लिए मशहूर हांगकांग में अब भी ऐसे बहुत से लोग हैं जो घरों को खरीदने में सक्षम नही हैं और रेंट देना भी इनके लिए मुश्किल होता है। ऐसे में इस तरीके को इजाद किया गया है। हालांकि पिंजरे में रहने का अनुभव इनके लिए एनीमल्स से कम नही हैै। क्योंकि ये पिंजरे घर भी लोहे के बने होते हैं। इन्हें उन मकानों में रख दिया जाता है जो खंडहर हो चुके हैं या जिनका किसी काम में उपयोग नही किया जाता। इसी में ये लोग अपने पिंजरे रख उनके अंदर रहने लगते हैं। 

एक अपार्टमेंट में 100 लोग

बताया जाता है कि पिंजरों के अंदर एक अपार्टमेंट में 100 लोग रहते हैं। यहां भी सिर्फ दो ही टाॅयलेट की व्यवस्था होती है। जिसकी वजह से परेशानी और बढ़ जाती है। पिंजरों के अंदर रहने वाले लोग गद्दे की जगह चटाई का इस्तेमाल करते हैं, जो कि बांस की बनी होती है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download