comScore
Dainik Bhaskar Hindi

तीजा में उजड़ा सुहाग, गणेश चतुर्थी में मां से छिना लाल, दो हादसों में तीन की मौत

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 14th, 2018 13:36 IST

4.5k
0
0
तीजा में उजड़ा सुहाग, गणेश चतुर्थी में मां से छिना लाल, दो हादसों में तीन की मौत

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। पति की लंबी उम्र की कामना को लेकर तरूण की पत्नी महक निर्जला व्रत रखे हुए थी, अपने दुधमुंहे बेटे को गोद में लेकर पूजा में जुटी महक पति के आने का इंतजार करती रही, लेकिन व्रत खुलने से पहले उसका सुहाग उजड़ गया। इसी तरह सुमित भूमिया हर साल की तरह इस वर्ष भी मोहल्ले की गणेश प्रतिमा के साथ घर के लिए मूर्ति लाया था। लेकिन गणेश चतुर्थी शुरू होते ही उसकी मौत हो गई। सुमित की मां उसके शव से लिपटकर बार-बार भगवान से दुहाई देती रही मेरे लाल को क्यों छीन लिया। यहां घटित हुए दो हादसों में तीन लोगों की मौत हो जाने से जहां दो सगे भाई असमय कालकवलित हो गए वहीं दो माताओं की गोद उजड़ गई और एक सुहागन का मांग का सिंदूर पुछ गया।

मोबाइल शॉप का संचालन करता था तरुण
महानद्दा निवासी अशोक खत्री के तीन बेटों में से तरुण सबसे बड़ा और विशाल सबसे छोटा था, उनका मंझला भाई रोहित भी है, जो घर पर था। घर में तरुण की मां ममता और पत्नी महक तीजा की पूजा कर रही थी। तरुण का विवाह दो वर्ष पूर्व महक से हुआ था, उनका 6 माह का बेटा अनमोल भी है। पूजा के समय महक अनमोल को गोद में लेकर पूजा कर रही थी। लेकिन जैसे ही तरुण और विशाल की मौत की खबर पहुंची, महक और ममता बेहोश हो गईं। तरुण अपने पिता और भाइयों के साथ जयंती कॉम्पलेक्स में मोबाइल शॉप का संचालन करता था। तरूण और विशाल सतना से जबलपुर वापस आ रहे थे । रेलवे स्टेशन से दो पहिया वाहन से अपने घर आ रहे थे तभी महानद्दा के पास एक ट्रक ने टक्कर मारकर इन दोनों भाइयों को मौत की नींद सुला दिया।

छूटा मोबाइल लेने जाते समय हुआ हादसा
मृतक सुमित के दोस्त आयुष और अजय के अनुसार वे लोग मोहल्ले में गणेश प्रतिमा रखते हैं। बुधवार की रात सभी युवक शीतलमाई से गणेश प्रतिमा लेकर लौटे थे, पंडाल में प्रतिमा रखने के बाद सुमित को याद आया कि प्रतिमा उठाते समय वह अपना मोबाइल मूर्तिकार के पलंग पर रखकर भूल गया था। मोबाइल लेने वो वापस जा रहा था। और हादसे का शिकार हो गया। पुलिस वैन की टक्कर से उसकी मौत हो गई । इकलौता बेटा था सुमित - मृतक सुमित इंद्रा नगर रामपुर निवासी घसीटा भूमिया का इकलौता बेटा था। सुमित पुष्पांजलि स्कूल में छठवीं कक्षा की पढ़ाई करता था। पुलिस वैन की टक्कर से मृत हुए किशोर की मौत को लेकर उसके रिश्तेदारों और मोहल्ले के लोगोंं ने रामपुर चौक पर शव रखकर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर