comScore

फर्जी रॉयल्टी के जरिए रेत का अवैध परिवहन, पुलिस ने पकड़ा फर्जीवाड़ा

March 12th, 2019 20:06 IST
फर्जी रॉयल्टी के जरिए रेत का अवैध परिवहन, पुलिस ने पकड़ा फर्जीवाड़ा

डिजिटल डेस्क,बालाघाट। कोतवाली पुलिस ने फर्जी रॉयल्टी के माध्यम से रेत का अवैध परिवहन किये जाने का मामला उजागर किया है। पुलिस ने फर्जी रॉयल्टी सहित सुनियोजित तरीके से रेत का अवैध परिवहन किये जाने का मामला उजागर होते ही रेत माफियाओं में हड़कंप की स्थिति निर्मित हैं। पुलिस ने संबंधित लोगों के खिलाफ मामले को दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि पुलिस रॉयल्टी से जुड़े सभी दस्तावेजों को खंगालने में लगी है। चर्चाएं हैं कि जांच के बाद बड़े मामले का खुलासा होने की संभावना है।
चेकिंग के दौरान पकड़ में आया मामला-
इस संबंध में पुलिस ने  बताया कि सुबह रेत के अवैध परिवहन मामले में तीन चार ट्रेक्टरों को भटेरा मार्ग से पकड़ा। जिन ट्रेक्टर चालकों के पास कोई रॉयल्टी नहीं थी, जिसके बाद बरामद पंचनामा तैयार कर कोतवाली पुलिस ने सभी ट्रेक्टर को जब्त कर लिया। जिसके कुछ समय बाद तीन ट्रेक्टर चालकों द्वारा परिवहन किये जा रही रेत की रॉयल्टी तीन लोगों द्वारा दी गई। जिसके बेस पर रेत के परिवहन की बात कही गई लेकिन पुलिस ने कार्यवाही और उसके बाद जारी रेत की ई-रॉयल्टी समय में अंतर पाये जाने पर पुलिस ने उसे फर्जी मानते हुए धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।
हो सकता है बड़े मामले का खुलासा-
पुलिस ने बताया कि चार ट्रेक्टर चालक सहित फर्जी ई-रॉयल्टी पेश करने के मामले में तीन लोगों को पकड़ा है। जिसमें पुलिस ने जिले के खनिज विभाग से जांच के लिए ई-रॉयल्टी जारी करने वाले जिम्मेदार व्यक्ति के बारे में पूछा है ताकि पकड़ाई गई। ई-रॉयल्टी की जानकारी मिल सकें, जिसने यह फर्जी तरीके से रॉयल्टी जारी की है। जिले में फर्जी रॉयल्टी और बिना रॉयल्टी के माध्यम से रेत के कारोबार को बयां करती है। पुलिस का स्वयं का मानना है कि इस जांच के बाद एक बड़ा मामला उजागर हो सकता है। बहरहाल पुलिस ने गिरफ्तार ट्रेक्टर चालक और रॉयल्टीकर्ता पतिराम पिता नंदराम गुर्जर, सुनील राउत, राजेश नगपुरे, मोनु उर्फ मोरध्वज डहरवाल, मदनगोपाल मोहारे और सुखंचद मोहारे है के खिलाफ मामले को दर्ज किया गया है।

कमेंट करें
NS9il