comScore

अब राशन दुकान में उड़द दाल बंद, तुअर या चना में से एक ही मिलेगी

अब राशन दुकान में उड़द दाल बंद, तुअर या चना में से एक ही मिलेगी

डिजिटल  डेस्क, नागपुर। राशन दुकान में मिलने वाली उड़द दाल बंद हो गई और तुअर या चना दाल में से कोई एक दाल ही अब राशन कार्ड पर मिल सकेगी। सरकार ने दाल का कोटा कम करते ही बाजार में दाल की कीमतों में उछाल आ गया है। प्रति किलो तुअर दाल पर 10 से 12 रुपए बढ़ गए, वहीं चना दाल पर प्रति किलो 10 रुपए बढ़ गए हैं। आम व खास के थाली में रहने वाली दाल महंगी हो गई है।

सरकार राशन दुकानों के माध्यम से आम लोगों को प्रति कार्ड पर तुअर, चना व उड़द दाल (एक-एक किलो) दे रही थी। सरकार से मार्च महीने में दाल का कोटा राशन दुकानों तक नहीं पहुंचा। आम लोगों को राशन दुकानों से दाल नहीं मिलने से बाजार में दाल की मांग बढ़ गई। मार्च का कोटा इस महीने राशन दुकानों में पहुंचा, लेकिन उड़द दाल बंद हो गई। तुअर व चना दाल राशन दुकानों में पहुंची, लेकिन कार्ड धारक को तुअर या चना में से कोई एक ही दाल मिलेगी, वह भी केवल एक किलो। तुअर का दाम प्रति किलो 55 रुपए व चना दाल प्रति किलो 45 रुपए है। सरकारी दाल के कोटे में हुई जबरदस्त कटौती का असर बाजार में दिखाई दे रहा है। बाजार में दाल की मांग बढ़ी और इसी के साथ दाल के दाम बढ़ गए हैं। तुअर दाल प्रति किलो पर 10 से  12 रुपए बढ़ गए, वहीं चना दाल प्रति किलो 10 रुपए बढ़ गए हैं। 

सरकार के पास है स्टॉक
सूत्रों के अनुसार सरकार के पास तुअर का जबरदस्त स्टाक है। सरकार अपनी तुअर महामंडल को देती है। वहां से तुअर उस मिल में जाती है, जिसके साथ एग्रीमेंट हुआ हो। मिल से दाल मिलती है और दाल मिल व महामंडल के माध्यम से वह दाल राशन दुकानों तक पहुंचती है। फिलहाल यह प्रक्रिया रुकी हुई है। इस कारण भी दाल की कीमतों में उछाल आने की खबर है। 

खाद्यान्न आपूर्ति अधिकारी प्रशांत काले से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन संपर्क नहीं हो सका। कई बार मोबाइल किया, लेकिन घंटी बजती रही। श्री काले की तरफ से बाद में कॉल बैक करने का केवल मैसेज आया। रात काे कई बार फोन किए, लेकिन घंटी बजती रही। दाल के कोटे में हुई कटौती व दाल के दाम बढ़ने के संबंध में उनका जवाब नहीं मिल पाया।
 

कमेंट करें