comScore

INDvsSA : चौथे मैच में इमरान ताहिर ने लगाया नस्लीय टिप्पणी करने का आरोप

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 12th, 2018 23:03 IST

INDvsSA : चौथे मैच में इमरान ताहिर ने लगाया नस्लीय टिप्पणी करने का आरोप

डिजिटल डेस्क, पोर्ट एलिजाबेथ। दक्षिण अफ्रीका के लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने आरोप लगाया है कि एक फैन ने उनको भारत और द। अफ्रीका के बीच चौथे वनडे के दौरान नस्लवादी टिप्पणी की। इमरान ताहिर ने इस मामले में तुरंत एक्शन लिया और उन्होंने सुरक्षाकर्मी से उस कथित व्यक्ति की शिकायत की। पूरे मामले में अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने अब अपना बयान जारी करते हुए कहा कि चौथे वनडे मैच के दौरान इमरान ताहिर पर एक अज्ञात व्यक्ति ने अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए उनके खिलाफ नस्लीय बातें कहीं। हालांकि सुरक्षाकर्मी से शिकायत के बाद उस व्यक्ति को खोजकर स्टेडियम से बाहर कर दिया गया।

अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने कहा, जांच में पाया गया कि ताहिर और उस अज्ञात व्यक्ति के बीच किसी तरह की हाथापाई नहीं हुई। उस व्यक्ति का किसी और के साथ भी किसी तरह का विवाद नहीं हुआ। उसे हिरासत में लेकर अब उस पर कार्रवाई की जा रही है। यह वाक्या उस वक्त घटित हुआ जब इमरान 12वें खिलाड़ी की भूमिका निभा रहे थे और इसके लिए उन्हें बार-बार ग्राउंड में जाना पड़ रहा था, ड्रेसिंग रूम और मैदान के बीच गलियारे में ही ताहिर के साथ कथित तौर पर यह घटना घटी।

फेसबुक पर एक वीडियो आया है जिसमें ताहिर की प्रशंसकों के एक समूह से गर्मागर्म बहस हुई थी जिसमें से एक ने भारतीय टीम की जर्सी पहनी हुई थी। यह वीडियो एक अन्य भारतीय प्रशंसक ने बनाया है जिसमें दोनों पक्षों के बीच कोई हाथापाई नहीं हुई है। इस दौरान किसी दर्शक ने उन पर कई बार नस्लभेदी कमेंट किए, लिहाजा इमरान ताहिर और उस दर्शक के बीच तीखी बहस भी हुई।

दक्षिण अफ्रीका के टीम मैनेजर मोहम्मद मूसाजी ने कहा 'मुझे इमरान की बात से जो समझ आया है कि उन्हें पूरे मैच के दौरान एक व्यक्ति ने मौखिक और नस्लीय टिप्पणी की। उन्होंने ड्रेसिंग रूम के सामने खड़े सुरक्षाकर्मियों को इसके बारे में बताया और दो सुरक्षाकर्मी इस टिप्पणी करने वाले व्यक्ति को देखने गए।' मूसाजी ने आगे कहा, 'इमरान ने जो बताया, उसके अनुसार वह एक भारतीय प्रशंसक था।' ताहिर ने सीएसए को बताया कि जब वह ब्रेक के दौरान ग्राउंड पर जा रहे थे तो प्रशंसक उनके खिलाफ टिप्पणी कर रहा था।

बता दें कि आईसीसी ने भी नस्लभेदी मामलों को लेकर काफी कड़ा रूख अपनाया हुआ है। आईसीसी की नस्लीय-रोधी आचार संहिता हिसाब से जो भी दर्शक ऐसे मामले में शामिल होते हैं, उन्हें स्टेडियम से बाहर खदेड़ दिया जाता है। जबकि उस दर्शक पर प्रतिबंध के अलावा मुकदमा भी चलाने का प्रावधान है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

loading...

आज के मैच