comScore
Dainik Bhaskar Hindi

रूस से आ रही है एस-400 मिसाइल, अब पाकिस्‍तान की खैर नहीं

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:02 IST

246
0
0
रूस से आ रही है एस-400 मिसाइल, अब पाकिस्‍तान की खैर नहीं

टीम डिजिटल, सेंट पीटर्सबर्ग. रूस से इंडिया को एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइल प्रणाली एस-400 ट्रायंफ मिलने वाला है. रूस के उप पीएम दिमित्री रोगोजिन ने यहां प्रेस से कहा कि भारत को विमान भेदी मिसाइल प्रणाली एस-400 की आपूर्ति को लेकर प्रीकान्ट्रैक्ट की तैयारियां जारी हैं.

यह सिस्टम एक साथ 36 मिसाइलों को मार गिराने में सक्षम है. यह कहना मुश्किल है कि इसमें और कितना समय लगेगा. भारत ने गत वर्ष 15 अक्तूबर को रूस के साथ ट्रायंफ वायु रक्षा प्रणाली को लेकर एक समझौते की घोषणा की थी जिसकी कीमत पांच अरब डालर से अधिक है. भारत ने इसके साथ ही चार युद्धपोत निर्माण में सहयोग और कामकोव हेलीकाप्टर के लिए एक संयुक्त निर्माण इकाई स्थापित करने की भी घोषणा की थी.

क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों को भी जमींदोज कर सकता है एस-400

  • एस-400 ट्रायंफ एक विमान भेदी मिसाइल है.
  • एस-400 ट्रायंफ रूस की नई वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का हिस्सा है, जो 2007 में रूसी सेना में तैनात की गई थी.
  • इन डिफेंस सिस्टम से विमानों, क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों तथा ज़मीनी ठिकानों को भी निशाना बनाया जा सकता है
  • ये मिसाइलें 400 किलोमीटर तक मार कर सकती हैं. इसके पास अमेरिका के सबसे एडवांस्ड फाइटर जेट एफ-35 को गिराने की भी कैपिसिटी है.
  • इस डिफेंस सिस्टम की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इससे एक साथ तीन मिसाइलें दागी जा सकती हैं.
  • मिसाइल से लेकर ड्रोन तक यानी इसकी मौजूदगी में कोई भी हवाई हमला आसानी से नाकाम किया जा सकता है.
  • पाकिस्तान या चीन की न्यूक्लियर पावर्ड बैलिस्टिक मिसाइलों से भी यह बचाएगा. यह एक तरह का मिसाइल शील्ड है.

 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर