comScore

हॉकी: वर्ल्ड लीग की शुरुआत आज से, ऑस्ट्रेलिया से होगा इंडिया का मुकाबला

December 01st, 2017 13:06 IST
हॉकी: वर्ल्ड लीग की शुरुआत आज से, ऑस्ट्रेलिया से होगा इंडिया का मुकाबला

डिजिटल डेस्क, भुवनेश्वर। ओडिशा में शुक्रवार से शुरू हो रही वर्ल्ड हॉकी लीग फाइनल में इंडिया का मुकाबला वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया से होगा। अपने पहले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया जैसी दिग्गज टीम से इंडिया का सामना होना किसी चुनौती से कम नहीं है, लेकिन इंटरनेशनल टीमों के बीच अपना दबदबा बनाने का टीम इंडिया के पास अच्छा मौका है। वर्ल्ड हॉकी लीग में इंडिया टीम को पूल-बी में शामिल किया गया है, जिसमें उसके साथ ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और जर्मनी को रखा गया है। वहीं पूल-ए में अर्जेंटिना, नीदरलैंड, बेल्जियम और स्पेन है।


कमाल का खेल रही है टीम इंडिया

इंडियन मेंस हॉकी टीम पिछले कुछ समय से काफी अच्छी परफॉर्मेंस दे रही है। एशिया में इंडिया टीम अपना दबदबा कायम करने में कामयाब रही है, लेकिन वर्ल्ड लेवल पर खुदको साबित करना किसी चुनौती से कम नहीं है। इंडिया टीम ने हाल ही में बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए एशिया कप में खिताबी जीत दर्ज की थी। इस टूर्नामेंट में टीम इंडिया एक भी मैच नहीं हारी थी और फाइनल में इंडिया टीम ने मलेशिया को 2-1 से हराया था।

ऑस्ट्रेलिया से मिलेगी बड़ी चुनौती

वर्ल्ड हॉकी लीग के पहले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया जैसी दिग्गज टीम से इंडिया टीम का मुकाबला होना, एक बड़ी चुनौती है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंडिया टीम की परफॉर्मेंस कुछ खास नहीं रही है। वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने इंडिया टीम को चैंपियंस ट्रॉफी, अजलन शाह और कॉमनवेल्थ गेम्स में मात दी है। ऐसे में वर्ल्ड लीग में पहले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया इंडिया टीम के लिए एक चुनौती है।

कोच मारिन के लिए भी है चुनौती

वर्ल्ड हॉकी लीग में इंडिया टीम के नए कोच शोर्ड मारिन के लिए भी किसी चुनौती से कम नहीं है। मारिन ने 2 महीने पहले ही रोलेंट ओल्टमेंस की जगह ली है। इंडिया टीम मारिन की कोचिंग में एशिया कप में अच्छी परफॉर्मेंस करने में भले ही कामयाब रही, लेकिन वर्ल्ड हॉकी लीग उनके लिए अलग चैलेंज है। इसके साथ ही जब ओल्टमेंस को हटाया गया था, तभी मैनेंजमेंट ने ये बात साफ कर दी थी कि एशियाई लेवल पर कामयाबी कोई मानदंड नहीं होगी, बल्की वर्ल्ड लेवल पर अच्छा परफॉर्म करना होगा। कोच बनने के बाद शोर्ड मारिन ने टीम की स्ट्रेटजी में तो कोई खास बदलाव नहीं किए हैं, लेकिन उन्होंने खिलाड़ियों को फ्री रखा है। ताकि वो अपनी मर्जी के मुताबिक खेल सके और इसका फायदा टीम को एशिया कप में मिल चुका है।

इंडियन हॉकी टीम

गोलकीपर- आकाश अनिल चिकते, सूरज करकेरा
डिफेंडर- हरमनप्रीत सिंह, अमित रोहिदास, दिप्सन टिर्की, वरुण कुमार, रुपिंदर सिंह, बीरेंद्र लाकड़ा
मिडफील्डर- मनप्रीत सिंह (कप्तान), चिंगलेनसना (उपकप्तान), एसके उथप्पा, सुमित, कोथाजीत सिंह
फॉरवर्ड- एसवी सुनील, आकाशदीप सिंह, मनदीप सिंह, ललित कुमार उपाध्याय, गुरजंत सिंह

कमेंट करें
PYXhv