comScore
Dainik Bhaskar Hindi

दिल्ली में सुरंग बनाकर हो रही थी पेट्रोल चोरी, ब्लास्ट से हुआ खुलासा

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 06th, 2018 15:55 IST

7.6k
0
0

डिजिटल डेस्क, पश्चिमी दिल्ली। राजधानी दिल्ली में द्वारका में 150 फुट लंबी सुरंग मिलने से इलाके में हडकंप मच गया। इस सुरंग की जानकारी तब हुई जब यहां एक तेज धमाका हुआ। बता दें कि ये धमाका इतना तेज था कि आस-पास के मकान तक हिल गए। हालांकि इस धमाके में कोई भी घायल नहीं हुआ है। इस सुरंग के निर्माण की वजह हैरान कर देने वाली है। इस सुरंग का निर्माण सड़क के नीचे से जा रही तेल की पाइपलाइन से पेट्रोल की चोरी के लिए किया गया था।

2-3 महीने से चल रही थी चोरी

दरअसल दिल्ली के द्वारका में इंडियन ऑयल की जमीन के अंदर से जा रही पाइप लाइन से पेट्रोल चुराते वक्त भारी धमाका हुआ जिसके बाद पिछले 2-3 महीने से चल रही शातिर चोरों की योजना की पोल खुल गई। जानकारी के अऩुसार, इन चोरों ने 150 फुट लंबी और 2.5 फुट चौड़ी सुरंग बनाकर पेट्रोल पाइपलाइन से पाइप जोड़ रखा था। जिससे वह पेट्रोलिम ऑयल की चोरी कर रहे थे। जिसके चलते मंगलवार रात पेट्रोलियम गैस का गुबार निकला और भीषण धमाका हुआ। 

चोरों ने खोदी 150 फीट लंबी सुरंग 

स्थानीय लोगों ने इस घटना की पुलिस को दी। वहीं पुलिस ने इस मामले मे बताया कि धमाका पेट्रोल चोरी करने के लिए बनाई गई सुरंग में लोगों ने किया। पुलिस ने कहा कि 150 फ़ीट लंबी सुरंग मिली है। यह सुरंग ढाई फ़ीट चौड़ी है। सुरंग आईओसी की पाइपलाइन से पेट्रोल चोरी करने के लिए बनाई गई है। सुरंग के जरिए 2-3 दिन से पेट्रोल निकाला जा रहा था। पुलिस ने इस मामले में मास्टरमाइंड जुबैर को गिरफ्तार किया है। जुबैर दरियागंज का रहने वाला है। सुरंग के पास ही जुबैर की कबाड़ी की दुकान है। पुलिस और बीएसएफ ने पूरे इलाके को घेर लिया है और मामले की जांच में जुट गई है।

दो आरोपी फरार

सोनीपत से बिजवासन की ओर जा रही इंडियन ऑयल की पाइपलाइन में सुराख कर करीब 10 मीटर लंबी सुरंग के जरिये पेट्रोल निकाला जा रहा था। जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी, अ‌र्द्धसैनिक बल, बम व डॉग स्क्वाड की टीमें मौके पर पहुंचीं। घटनास्थल से ही पुलिस ने मुख्य आरोपी जुबैर को तो पकड़ लिया, लेकिन उसके दो साथी फरार हो गए। द्वारका नॉर्थ थाने में एक्सप्लोसिव एक्ट, पेट्रोलियम एंड मिनरल पाइपलाइंस एक्ट, पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है।

पाइपलाइन की मरम्मत में जुटी टीम 

वहीं, इंडियन ऑयल की टीम पाइपलाइन की मरम्मत में जुट गई है। वहीं धमाके की वजह अचानक गैस का बनना बताया जा रहा है। बता दें कि 21 जनवरी से इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन डिपो को अपने सिस्टम में एनएसआइटी के पास कम दबाव दिखाई देने लगा, जिसके बाद सुरक्षा टीम पाइपलाइन में सेंध की खोजबीन कर रही थी।

मंगलवार रात को हुए अचानक धमाके के बाद पूरी साजिश का पर्दाफाश हो गया। द्वारका नॉर्थ थाने में एक्सप्लोसिव ऐक्ट, पेट्रोलियम ऐंड मिनरल पाइपलाइंस ऐक्ट, पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज समेत संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस प्लॉट मालिक का पता लगा रही है, जिसने बिना वेरिफिकेशन प्लॉट किराए पर दिया था। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download