comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कभी नहीं सूखता कुंआ, मक्का-मदीना के अंदर ऐसा है नजारा

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 08th, 2018 19:20 IST

5.6k
0
0
कभी नहीं सूखता कुंआ, मक्का-मदीना के अंदर ऐसा है नजारा

रमजान का पाक माह चल रहा है. हर मुस्लिम के लिए रोजे फर्ज बताए गए हैं. इस अवसर पर हम आपको मक्का-मदीना की ओर ले जा रहे हैं. मुस्लिमों के लिए मक्का मदीना जन्नत का दरवाजा माना जाता है. हर मुस्लिम अपने जीवन में कम से कम एक बार वहां जाने की ख्वाहिश रखता है.आइए जानते हैं कि मुस्लिमों के पवित्र धार्मिक स्थल मक्का-मदीना के अंदर क्या है...

अंदर से ऎसा दिखता है मक्का की आधारशिला आज से लगभग 1400 वर्ष पूर्व मोहम्मद पैगंबर साहब के द्वारा की गई थी. यह बाहर से देखने में एक चौकोर कमरानुमा इमारत दिखाई देती है जिस पर काला लिहाफ चढ़ा हुआ है. इसके चारों तरफ मस्जिद बनी हुई है जिसमें हज के लिए आने वाले मुस्लिम जायरीन अल्लाह की इबादत करते हैं और अपने गुनाहों के लिए माफी मांगते हैं.

मक्का में ही पैगंबर साहब के चरण चिन्ह भी मौजूद हैं. इन्हें भक्तों के दर्शनार्थ रखा गया है. सभी वहां पर जाकर इनके दर्शन कर अपने आपको धन्य समझते हैं.

मक्का में ही एक कुंआ भी है जिसका पानी कभी नहीं सूखता. जायरीनों के लिए चौबीसों घंटे इस कुएं से पानी निकाला जाता है. इस पानी को पवित्र मान कर इसे विभिन्नय उपयोगों में लिया जाता है.इसके अतिरिक्त मक्का में एक काले रंग का पत्थर भी है, जिसे मुस्लिम चूमते हैं तथा मन्नत मांगते हैं.

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download