comScore
Dainik Bhaskar Hindi

चाबहार पर भारत को झटका, ईरान ने चीन-पाक को दिया शामिल होने का प्रस्ताव

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 14th, 2018 08:05 IST

4.3k
0
0
चाबहार पर भारत को झटका, ईरान ने चीन-पाक को दिया शामिल होने का प्रस्ताव

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली चाबहार प्रोजेक्ट पर ईरान ने भारत को एक बड़ा झटका दिया है। भारत द्वारा शुरू किए गए इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट में अब ईरान ने पाकिस्तान और चीन को भी शामिल होने का प्रस्ताव दे डाला है। पाकिस्तान के 'डॉन' अखबार ने अपनी एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया है। अखबार ने लिखा है, 'ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने सोमवार को पाक और चीन को चाबहार सी-पोर्ट प्रॉजेक्ट में शामिल होने का न्योता दिया है। साथ ही चाबहार से ग्वादर पोर्ट को जोड़ने के लिए पाकिस्तान को आगे आने को भी कहा है।'

बता दें कि जवाद जरीफ 3 दिनों के पाकिस्तान के दौरे पर हैं। सोमवार को इस्लामाबाद में इंस्टिट्यूट ऑफ स्ट्रैटिजिक स्टडीज में उनका एक लेक्चर था। अखबार ने लिखा है कि इसी लेक्चर के दौरान जरीफ ने उक्त बातें कही हैं। अखबार ने यह भी लिखा है कि जरीफ ने इस दौरान ईरान की ओर से चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (CPEC) में शामिल होने की बात भी कही है।

चाबहार प्रोजेक्ट पर ईरान का यह कदम भारत के लिए निश्चित रूप से चौंकाने वाला है। दरअसल, भारत ने पाकिस्तान को साइडलाइन करने के लिए ही दक्षिण-पूर्व ईरान में चाबहार बदंरगाह को विकसित करना शुरू किया था। इसके पहले फेज का उद्घाटन पिछले साल दिसंबर में किया गया था। इस पोर्ट के निर्माण को भारत की एक बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है। इसका सबसे बड़ा फायदा अफगानिस्तान और मध्य-एशिया के देशों तक भारत की पहुंच है। इस पोर्ट की मदद से भारत अब पाकिस्तान से गुजरे बिना ही अफगानिस्तान पहुंच सकता है। हालांकि अब ईरान के इस नए कदम के बाद भारत को अपनी रणनीति पर पुनर्विचार करना पड़ सकता है।

डॉन अखबार ने चाबहार प्रोजेक्ट के सम्बंध में यह भी लिखा है कि जरीफ ने यह बयान ईरानी पोर्ट में भारत के शामिल होने को लेकर जताई गई पाकिस्तान की चिंताओं को दूर करने के लिए दिया है। जरीफ के हवाले से अखबार ने लिखा है कि ईरान के भारत के साथ संबंध पाकिस्तान को नकारात्मक रूप से प्रभावित नहीं करेंगे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर