comScore

ईरान की अमेरिका को धमकी, एक भी गोली दागी तो खाक कर देंगे


हाईलाइट

  • दोनों देशों में से कोई भी पीछे हटने को नहीं तैयार
  • ईरान ने दी गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी
  • ईरान शूट कर चुका है अमेरिका का ड्रोन

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की धमकी के बाद ईरान ने पलटवार किया है। ईरान ने कहा कि अमेरिका अगर उसकी तरफ एक भी गोली दागने की कोशिश करता है तो इसका उसे गंभीर परिणाम भुगतना होगा। ईरान की तरफ से ये बयान ऐसे समय आया है, जब यूएस प्रेसिडेंट ट्रंप ने सैन्य कार्रवाई पर बयान जारी किया है। 

अमेरिका को चेतावनी देते हुए शनिवार को ईरान ने कहा कि यदि अमेरिका ईरान के खिलाफ कोई आक्रमण करता है तो उसे इसके नतीजे भुगतने के लिए भी तैयार रहना चाहिए। ईरान मध्य पूर्व के सशस्त्र बल के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल अबोफजल शकरची ने कहा कि ईरान की तरफ से गोली चलेगी तो अमेरिका और उसके साथियों के हितों में आग लग जाएगी। 

शकरची ने कहा कि ईरान युद्ध नहीं चाहता है, इस्लामिक गणराज्य युद्ध की शुरुआत नहीं करना चाहता, लेकिन दुश्मन की छोटी सी भी गलती पर उसे परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना होगा। मध्य और पश्चिम एशिया में अमेरिका को ईरान की तरफ से सबसे बड़ी क्रांतिकारी प्रतिक्रिया मिल सकती है। शकरची ने कहा कि दुश्मन की एक भी गोली चलने पर उसे माकूल जवाब दिया जाएगा।  


10 मिनट पहले ट्रंप ने रोका हमला

शुक्रवार को ट्रंप ने ट्वीट कर कहा था कि ईरान ने इंटरनेशनल वाटर्स में एक मानवरहित ड्रोन को मार गिराया था। हम पिछली रात को 3 अलग-अलग जगहों पर जवाबी कार्रवाई करने के लिए पूरी तरह से तैयार थे। जब मैंने पूछा कि इसमें कितने लोग मर जाएंगे। एक जनरल ने जवाब दिया 150 लोग, सर। स्ट्राइक से 10 मिनट पहले मैंने इसे रोक दिया।' ट्रंप ने कहा 'मुझे कोई जल्दी नहीं है। ईरान पर कल रात और प्रतिबंध जोड़े गए हैं। ईरान के पास परमाणु हथियार नहीं हो सकते, न कि अमेरिका के खिलाफ और न ही दुनिया के खिलाफ!

ईरान ने मार गिराया था यूएस का ड्रोन

बता दें कि ईरान ने हार्मोज्गान प्रांत में अमेरिका का जासूसी ड्रोन मार गिराया था। इसके बाद ट्रंप ने ईरान को चेतावनी दी थी कि जासूसी ड्रोन को गिराकर उसने बड़ी गलती की है, हालांकि संयुक्त राष्ट्र में ईरान के दूत माजिद तख्त-रवानी ने सुरक्षा परिषद को पत्र लिखकर बताया कि ड्रोन को मार गिराने से पहले दो बार चेतावनी दी गई थी। उन्होंने यह भी कहा, 'तेहरान युद्ध नहीं चाहता है, लेकिन हम अपनी जमीन, समुद्र और वायु क्षेत्र की रक्षा करेंगे।'

यू ट्यूब पर शेयर किया वीडियो

ईरान ने अमेरिका के जिस ड्रोन को मार गिराया था उसकी कीमत करीब 1250 करोड़ रुपए थी। इसके पंख बोइंग 737 जेटलाइनर से भी बड़े थे। ड्रोन आरक्यू-4 ग्लोबल हॉक श्रेणी का था। ईरान ने एक मिसाइल से इस ड्रोन को गिराया था। ईरान मिलिट्री ट्यूब, एक यूट्यूब चैनल जो खुद को फोर्स के अनौपचारिक मीडिया सेंटर के रूप में बताता है, ने 52 सेकंड का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में ईरानी मिसाइल लॉन्चर आकाश में किसी वस्तु को शूट करता हुआ दिखाई दे रहा है।

कमेंट करें
L6pXn