comScore

इरफान को है इंडोक्राइन ट्यूमर, ट्वीट कर मांगी दुआएं 

March 17th, 2018 00:35 IST

डिजिटल डेस्क, मुंबई। फिल्म अभिनेता इरफान खान की बीमारी की खबर ने उनके फैंस सहित पूरे बॉलीवुड को सदमे में डाल दिया है। इरफान खान ने खुद ट्वीट कर अपनी बीमारी का खुलासा करते हुए बताया है कि वे किस गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। इरफान खान को इंडोक्राइन ट्यूमर डाइग्‍नोज हुआ है। इसके इलाज के ल‍िए इरफान खान व‍िदेश जाएंगे। इरफान खान ने ट्वीट में  लिखा है कि - जिंदगी में अचानक कुछ ऐसा हो जाता है जो आपको आगे लेकर जाती है। मेरी जिंदगी के पिछले कुछ दिन ऐसे ही रहे हैं। मुझे न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी हुई है। लेकिन मेरे आसपास मौजूद लोगों के प्यार और ताकत ने मुझमें उम्मीद जगाई है।

उन्होंने आगे लिखा है, इसके इलाज के लिए मैं विदेश जा रहा हूं। मेरी सभी से प्रार्थना है कि वे मेरे लिए दुआएं करते रहें। मेरी बीमारी को लेकर न्यूरो की जो अफवाह फैलाई जा रही हैं, इसके लिए बता दूं कि न्यूरो हमेशा ब्रेन के लिए नहीं होता। जिन लोगों ने मेरे बयान का इंतजार किया, मुझे उम्मीद है कि मैं फिर से और स्टोरी लेकर वापस आऊंगा।

कुछ दिनों पहले ही दी थी जानकारी

कुछ दिनों पहले एक्टर इरफान खान ने एक ट्वीट कर खुद को रेयर बीमारी होने की जानकारी दी थी। जिसके बाद से उनकी बीमारी को लेकर कई सारी अटकलें सामने आ रही थीं। उस वक्त उनकी पत्नी और फिल्म इंडस्ट्री से उनके कुछ फ्रेंड्स ने एक्टर की बीमारी पर गलत खबरें ना फैलाने की गुजारिश की थी। अब इरफान खान ने खुद ही ट्वीट कर अपनी बीमारी की जानकारी दी है।

लेखिका मार्गेट मिशेल के कोट का जिक्र

इरफान ने अपने ट्वीट में लेखिका मार्गेट मिशेल के एक कोट  का जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि जरूरी नहीं कि जिंदगी हमें वही दे, जो हम चाहते हैं या उम्मीद करते हैं। असंभावित चीजों से हम आगे बढ़ते हैं, मेरे बीते दिन कुछ इसी तरह बीते हैं। अब मालूम चला है कि मुझे न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर है।

कुछ द‍िन पहले उनकी आने वाली फ‍िल्‍म ब्‍लैक मेल के प्रोड्यूसर भूषण कुमार ने कहा था, 'यह बहुत ही सेंसेटिव बात है। हमारी प्रार्थनाएं इरफान के साथ हैं। वह जल्दी ही स्वस्थ हो जाएंगे। वे अपना इलाज कराने के लिए भारत के बाहर जा रहे हैं।

क्या है न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर

बता दें कि न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर एक ऐसी बीमारी है, जिसमें न्यूरो इंडोक्राइन सेल्स ट्यूमर में बदल जाते हैं। इसके इलाज के लिए अब इरफान खान देश से बाहर जा रहे हैं और उम्मीद की जा रही है कि  वह स्वस्थ होकर जल्द वापस लौटेंगे।

न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर पिछले कुछ सालों से लगातार बढ़ रहा है। इसका सबसे बड़ा लक्षण लगातार डायरिया का होना है। अगर 20 से 25 दिनों तक लगातार दस्त आ रहे हों तो तुरंत इसकी जांच कराना चाहिए। यह बीमारी आनुवांशिक कारणों से भी होती है। परिवार में माता या पिता को यह बीमारी हुई तो उनसे उनके बच्चे को होने का खतरा रहता है। बच्चे में इस बीमारी का पता लगाने के लिए जेनेटिक टेस्ट जरूरी होता है। 
 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 40 | 22 April 2019 | 08:00 PM
RR
v
DC
Sawai Mansingh Stadium, Jaipur