comScore

ISIS की करतूत: भूखी मां को खिलाया उसके बच्चे का मांस, बच्ची के मरने तक किया रेप

July 27th, 2017 19:14 IST
ISIS की करतूत: भूखी मां को खिलाया उसके बच्चे का मांस, बच्ची के मरने तक किया रेप

टीम डिजिटल, बगदाद. इस्लामिक स्टेट (ISIS) के आतंकियों की बर्बरता एक बार फिर सामने आई हैं। ISIS के खूंखार आतंकियों ने एक मां को तीन दिन तक भूखा रख, उसे उसी के बच्चे का गोश्त खिला दिया। उस भूखी मां को उस वक्त अंदजा भी नहीं था कि वो अपने ही बच्चे को खा रही हैं। जब उस महिला ने खाना खा लिया, तब आतंकियों ने उससे बताया कि  जिस एक साल के बच्चे को उससे छीना था, उसी का मांस पकाकर उसे खाने को दिया।

वहीं एक दूसरी घटना में एक 10 साल की बच्ची से उसके ही परिवार वालों के सामने रेप किया। ISIS के आतंकियों ने बच्ची से तब तक रेप किया जब तक कि उसकी मौत नहीं हो गई।

सांसद ने किया घटनाओं का खुलासा

दोनों घटनाओं का खुलासा इराक की एक सांसद ने किया है। इराक की महिला सांसद विआन दाखिल जानी-मानी याजिदी नेता हैं। हाल ही में मिस्र के एक चैनल 'एक्स्ट्रा न्यूज' को दिए गए इंटरव्यू में विआन ने इस खौफनाक वारदात के खुलासे किए है। इस इंटरव्यू को मिडल ईस्ट मीडिया रिसर्च इंस्टिट्यूट ने अनुवाद किया है। इंटरव्यू में विआन कुछ ऐसी याजिदी महिलाओं और युवतियों के बारे में बता रही थीं, जिन्हें उन्होंने ISIS के चंगुल से निकालने में मदद की। ऐसी ही एक महिला के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा, 'एक याजिदी महिला को हमने ISIS के कब्जे से बाहर निकलवाया। उसने बताया कि 3 दिन तक उसे एक तहखाने में बंद रखा गया और खाने-पीने को कुछ भी नहीं दिया गया। इसके बाद ISIS के कुछ आतंकी उसके पास थाली में चावल और मांस लेकर आए। वह बहुत भूखी थी और इसीलिए उसने तुरंत वह खाना खा लिया।' विआन ने आगे बताया, 'जब उस महिला ने पूरा खाना खा लिया, तब आतंकियों ने उससे कहा कि हमने तुम्हारे जिस एक साल के बच्चे को तुमसे छीना था, उसी का मांस पकाकर तुम्हें खाने को दिया। आतंकवादियों ने उस महिला को बताया कि उसने जो खाना खाया था, वह उसके अपने बच्चे का गोश्त था।'

विआन के मुंह से इस खौफनाक वारदात के बारे में सुनकर इंटरव्यू लेने वाला शख्स कैमरे के सामने ही रो दिया। विआन ने इंटरव्यू में 10 साल की एक लड़की पर किए गए बर्बर जुल्म पर भी बात की। उन्होंने कहा, 'एक याजिद लड़की ने मुझे बताया कि ISIS आतंकवादी उसकी 6 बहनों को ले गए। 10 साल की उसकी छोटी बहन के साथ आतंकवादियों ने तब तक बलात्कार किया, जब तक कि वह मर नहीं गई। जब उस बच्ची के साथ यह सब कुछ हो रहा था, उस समय उसके पिता और बहनें भी वहीं मौजूद थे। अपनी आंखों के सामने उन्होंने उसे मरते देखा।'

कमेंट करें
KU4e0