comScore
Election 2019

पेटीएम वॉलेट हैक करने वाले गिरोह पर एसटीएफ का शिकंजा- एक गिरफ्तार

October 09th, 2018 14:10 IST
पेटीएम वॉलेट हैक करने वाले गिरोह पर एसटीएफ का शिकंजा- एक गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। व्यापारियों और आम लोगों के पेटीएम वॉलेट को हैक करके खाते से रकम उड़ाने वाले एक गिरोह पर जबलपुर एसटीएफ ने शिकंजा कसा है। इस गिरोह के एक सदस्य को एसटीएफ टीम ने राजस्थान के अलवर से दबोचा है, आरोपी ने पूछताछ में बताया है कि यूपी के मथुरा की बॉर्डर से लगे गांव से उसकी गैंग के और सदस्य देश भर में ऑनलाइन फर्जीवाड़ा करके ऑनलाइन खातों से रकम उड़ाने का काम कर रहे हैं। एसटीएफ निरीक्षक हरिओम दीक्षित ने बताया है कि राइट टाउन निवासी इलेक्ट्रॉनिक व्यापारी विनीत गोकलानी ने शिकायत दी थी कि उसके पेटीएम वॉलेट को हैक करके अज्ञात लोगों ने खाते से 64 हजार 700 रुपए पार कर दिए हैं। विनीत की िशकायत पर एसटीएफ एसपी संदीप गोयनका के निर्देश पर षड्यंत्र रचकर धोखाधड़ी करने का अपराध दर्ज कर एसआई पंकज साहू के साथ एक टीम गठित की गई। जांच के दौरान पता चला है कि जिस नंबर से विनीता का पेटीएम हैक किया गया था उसकी पहचान राजस्थान अलवर के महुआखुर्द मालखेड़ा निवासी राहुल खान के रूप में की गई। टीम अलवर पहुंची और राहुल खान को गिरफ्तार कर लिया।

मथुरा का अम्मज खान है सरगना
- एसटीएफ की पूछताछ में राहुल खान ने बताया है कि वह राजस्थान-यूपी बॉर्डर पर स्थित मथुरा के दौसरथ गांव का अम्मज खान गिरोह का सदस्य है। राहुल के अनुसार अम्मज खान और उसके कई साथी देश भर में पेटीएम वॉलेट को हैक करके ऑनलाइन पैसे पार करते हैं। अम्मज खान का एक साथी आजाद खान का भी नाम सामने आया है। एसटीएफ टीम मथुरा पहुंची, लेकिन अम्मज और आजाद गायब मिले। लिहाजा एसटीएफ ने राहुल के साथ अम्मज, आजाद व अन्य लोगों के नाम एफआईआर में जोड़ लिए हैं। इस कार्रवाई में एसटीएफ के आरक्षक विकास कुमार, आसिफ खान, अमित, आलोक और महिला आरक्षक क्रांति पटैल की महत्वपूर्ण भूमिका रही।
 

Loading...
कमेंट करें
8xveX
Loading...