comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जाधव की दया याचिका के बाद पाक का एक और 'नापाक' वीडियो

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:11 IST

777
0
0
जाधव की दया याचिका के बाद पाक का एक और 'नापाक' वीडियो

टीम डिजिटल, इस्लामाबाद. जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में एक नया मोड़ आया है. पाकिस्तान के इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) ने जाधव के कबूलनामे का दूसरा वीडियो जारी कर बताया है कि जाधव ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को स्वीकार करते हुए पाकिस्तानी सेना प्रमुख के सामने दया याचिका दाखिल की है. 

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने अपने फेसबुक पेज पर यह वीडियो पोस्ट किया है. इसके साथ उन्होंने लिखा है कि कुलभूषण जाधव ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को स्वीकार करते हुए पाकिस्तानी सेना प्रमुख से माफी की गुहार लगाई है. उन्होंने आगे लिखा है मौत की सजा पाए इंडियन नेवी के कमांडर कुलभूषण जाधव ने पाक आर्मी चीफ के पास दया याचिका भेजी है. इस याचिका में जाधव ने अपने ऊपर आतंकवाद, घुसपैठ और लोगों की जान लेने के आरोपों को स्वीकारा है. साथ ही अपने कर्मों पर माफी मांगते हुए जान बचाने की गुहार लगाई है.

जाधव के कबूलनामे का यह दूसरा वीडियो अप्रैल 2017 में शूट किया गया है. यह 10 मिनट 10 सेकंड का है, जो कि एडिटेड है. वीडियो में जाधव कह रहे हैं कि उन्होंने 2005 और 2006 में दो मौकों पर कराची का दौरा किया था. 2014 में मोदी सरकार के आने के बाद उन्हें भारतीय खुफिया एजेंसियों ने पाकिस्तान में जासूसी और गड़बड़ी करने की जिम्मेदारी दी.

गौरतलब है कि जाधव की सजा के खिलाफ ICJ में सुनवाई चल रही है. जाधव की फांसी पर रोक लगाने के लिए भारत ने आठ मई को आइसीजे का दरवाजा खटखटाया था. इस मामले में पाकिस्तान का कहना है कि जाधव ईरान के रास्ते पाकिस्तान में दाखिल हुए थे, उनके पास मुस्लिम नाम का भारतीय पासपोर्ट था और उनका इरादा आतंकवादी साजिश का था. इन्हीं आरोपों में पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जाधव को जासूसी के आरोपों में मौत की सजा सुनाई थी. दूसरी तरफ भारतीय अधिकारियों का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा कर पाकिस्तान ले जाया गया. नौसेना से इस्तीफा देकर वे ईरान में कारोबार कर रहे थे. उनका रॉ से कोई लेना-देना नहीं है.

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download