comScore

जम्मू कश्मीर : छिपे बैठे थे हिजबुल के 2 आतंकी, सेना ने एनकाउंटर में किया ढेर

March 24th, 2018 13:27 IST
जम्मू कश्मीर : छिपे बैठे थे हिजबुल के 2 आतंकी, सेना ने एनकाउंटर में किया ढेर

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आर्मी ने ऑपरेशन चलाकर एनकाउंटर में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों को मार गिराया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार शाम को आर्मी को अनंतनाग के दूरू इलाके में हिज्बुल के दो आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली, जिसके बाद आर्मी ने घेराबंद कर ऑपरेशन चलाया और दोनों को मार गिराया। बताया जा रहा है कि इन आतंकियों के पास से AK-47 और कई सामना भी बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकियों के नाम समीर टाइगर और अशरफ खान बताया जा रहा है।

इंटरनेट सर्विस को कर दिया था बंद

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक साउथ कश्मीर के अनंतनाग दूरू में एक घर में शुक्रवार देर रात सेना को हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी। खुफिया एजेंसी इनपुट से मिली जानकारी के बाद सेना ने 19 राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस और CRPF के जवानों ने मिलकर पूरे इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया। किसी भी तरह की अफवाह न फैले, इसलिए इंटरनेट सर्विस को भी बंद कर दिया गया था।

आतंकियों ने सेना पर चलाई गोलियां

बताया जा रहा है कि सेना ने जब आतंकियों को पूरी तरह से घेर लिया, तो एक घर में छिपे इन आतंकियों ने जवानों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। इसके जवाब में सेना ने भी काउंटर ऑपरेशन करते हुए आतंकियों पर गोलियां चलाईं। इस ऑपरेशन में सेना ने हिजबुल के दो आतंकियों को मार गिराया। मारे गए आतंकियों में से एक हिजबुल का कमांडर भी बताया जा रहा है। आतंकियों के पास सेना ने दो AK-47 समेत कई सामान भी बरामद किए हैं।

कुपवाड़ा में मारे थे 5 आतंकी

हाल ही में 22 मार्च को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच चले एनकाउंटर में 5 आतंकियों को ढेर कर दिया गया था। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच काफी देर तक मुठभेड़ चली। इस मुठभेड़ में सेना के तीन और पुलिस के दो जवान भी शहीद हो गए थे। जबकि सुरक्षाबलों ने 5 आतंकियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के बताए जा रहे थे।

इस साल 64 आतंकी घटनाएं : गृह मंत्रालय

राज्यसभा में बीते दिनों गृह मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया था कि इस साल 11 मार्च तक 64 आतंकी घटनाएं हो चुकी हैं। गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में साल 2015 में 208, 2016 में 322, 2017 में 342 और 2018 के 11 मार्च तक 64 आतंकी घटनाओं को दर्ज किया गया है। 

कितने आम नागरिकों की मौत?

गृह मंत्रालय ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि 2015 में 17, 2016 में 15 और 2017 में 40 आम नागरिकों की मौत हुई थी। जबकि 11 मार्च 2018 तक 2 आम नागरिक मारे गए हैं।

कितने जवान शहीद हुए?

रिपोर्ट के अनुसार 2015 में 39, 2016 में 82, 2017 में 80 और 2018 की 11 मार्च तक 15 जवान शहीद हुए हैं। 

कितने आतंकी मारे गए?

वहीं इस रिपोर्ट में जानकारी दी गई है कि 2015 में 108, 2016 में 150, 2017 में 213 और 2018 की 11 मार्च तक 20 आतंकवादी मारे जा चुके हैं। 

कमेंट करें
7PjOA