comScore

जम्मू-कश्मीर: डीजीपी ने कहा- घाटी में हालात सामान्य, अफवाहों पर ध्यान न दें

August 11th, 2019 12:44 IST
जम्मू-कश्मीर: डीजीपी ने कहा- घाटी में हालात सामान्य, अफवाहों पर ध्यान न दें

हाईलाइट

  • जम्मू-कश्मीर में ईद को ध्यान में रखते हुए प्रतिबंधों में ढील दी गई है

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद तनाव की स्थिति के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन अभी तक कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है। पुलिस ने घाटी में गोलीबारी की घटनाओं से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट्स को शनिवार को सिरे से नकार दिया। पुलिस प्रशासन ने लोगों से किसी भी तरह की शरारती और भड़काऊ खबरों पर विश्वास नहीं करने का आग्रह किया है।

दरअसल कुछ अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी ने दावा किया था कि जम्मू-कश्मीर में प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद श्रीनगर में 10 हजार लोग सड़कों पर उतर आए थे। जिसे गृह मंत्रालय ने इसे पूरी तरह गलत और मनगढ़ंत बताया था। अब जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी साफ कर दिया है कि राज्य में हालात पर काबू पाने के लिए पिछले 6 दिनों में गोली का इस्तेमाल नहीं किया गया है।

घाटी से धारा-144 हटा ली गई, कश्मीर में कुछ जगहों पर ढील दी गई है। वहीं बकरीद त्योहार को देखते हुए शोपियां, पुलवामा, अनंतनाग और सोपोर जैसे इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंताजम किए गए हैं। इसी बीच जम्मू एवं कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा, पुलिस ने बीते छह दिनों में अब तक एक भी गोली नहीं चलाई है। लोगों को घाटी में गोलीबारी की घटनाओं से संबंधित किसी भी शरारती और भड़काऊ खबर पर विश्वास नहीं करना चाहिए।

दिलबाग सिंह ने ये भी बताया कि, जम्मू के 10 जिलों से निषेधाज्ञा हटा दी गई है। दिलबाग सिंह ने कहा, जम्मू में 10 जिलों में किसी भी तरह का प्रतिबंध नहीं है। जम्मू के केवल पांच शहरों में ही प्रतिबंध है। धीरे-धीरे उन्हें भी हटा दिया जाएगा। वहीं, कश्मीर के महानिरीक्षक (आईजी) एसपी पानी ने कहा कि, घाटी में गोलीबारी की घटना से संबंधित अंतर्राष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स के बारे में स्पष्ट किया जाता है कि ये रिपोर्ट्स गलत हैं। घाटी में इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। पिछले एक सप्ताह से घाटी में काफी हद तक शांति बनी हुई है। हम मीडिया एजेंसियों की जिम्मेदारी से कार्य करने के लिए सराहना करेंगे।

जम्मू एवं कश्मीर के पुलिस इम्तियाज हुसैन ने अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो ट्वीट किया था, जिसमें लाल चौक, डल झील क्षेत्र, बटमालू, जहांगीर चौक, गांदेरबल, बारामूला और पुलवामा क्षेत्र नजर आ रहे हैं। वीडियो में कई दुकानें बंद नजर आ रही हैं, वहीं कई लोग सड़कों पर अपने दैनिक कार्यो के लिए आते-जाते दिख रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जम्मू एवं कश्मीर में लागू भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370(जो जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देता है) को रद्द करने की घोषणा करने से कुछ घंटे पहले घाटी में प्रतिबंध लगाए गए थे।

कमेंट करें
6ZuQK
कमेंट पढ़े
durjan Singh lodhi August 11th, 2019 22:03 IST

हर भारतीय नागरिक को एकता बनाऐ रखनी चाहिऐ