comScore

जम्मू-कश्मीर- जम्मू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर की फिसली जुबान, भगत सिंह को बताया आतंकी

November 30th, 2018 12:49 IST
जम्मू-कश्मीर- जम्मू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर की फिसली जुबान, भगत सिंह को बताया आतंकी

हाईलाइट

  • जम्मू यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर ने छात्रों को पढ़ाया गलत पाठ
  • शहीद भगत सिंह को बताया आतंकी
  • प्रोफेसर के कथन पर छात्रों ने जताया विरोध

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू यूनिवर्सिटी में राजनीति विभाग के प्रोफेसर ताजुद्दीन ने क्लास में छात्रों को लेक्चर देने के दौरान क्रांतिकारी शहीद भगत सिंह को आतंकी बताया है। इस मामले का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। जिसमें ताजुद्दीन अपने छात्रों को बता रहे है कि भगत सिंह क्रांतिकारी और शहीद नहीं बल्कि एक आतंकी था। उसने देश में आतंकी गतिविधियां फैलाने का काम किया था। प्रोफेसर के इस बयान के बाद यूनिवर्सिटी और छात्रों में बेहद रोष की स्थिति है।

दरअसल, यह वीडियो गुरुवार को उस समय बनाया गया, जब प्रोफेसर क्लास में लेक्चर दे रहे थे। इसके बाद कुछ गुस्साए छात्रों ने प्रोफेसर की शिकायत वीसी डॉ. मनोज धर से की। वहीं, इस मुद्दे पर गुस्साए छात्रों ने यूनिवर्सिटी बंद कराने की बात कही थी। प्रोफेसर के लेक्चर से आहत छात्रों का कहना है कि प्रोफेसर के इस बात से राष्ट्रवादी छात्रों की भावनाओं को चोट पहुंची है। छात्रों ने वीसी से प्रोफेसर के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। इसको लेकर लॉ डिपार्टमेंट के छात्रों ने वीसी से मिलकर प्रोफेसर की शिकायत की।

मामले को लेकर छात्रों का कहना है कि भगत सिंह ने देश की आजादी के संग्राम में बड़ा योगदान दिया है। लेकिन प्रोफेसर ने उन्हें आजादी का नायक बताने के के बजाए आतंकी करार दिया है। वहीं, आरोपी प्रो. ताजुद्दीन ने इस मामले में सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि वह क्लास में लेनिन पर लेक्चर दे रहे थे। लेक्चर के दौरान उनकी जीवनी, तत्कालीन परिस्थिति उसके भाई का भी जिक्र आया था, जिनको आतंकी प्रचार का नेतृत्वकर्ता बताते हुए फांसी की सजा दे दी गई थी।

प्रोफेसर ने कहा कि लेक्चर में एक्सट्रीम वायलेंस का जिक्र हुआ था। उन्होंने कहा कि यही आतंक की परिभाषा है। उन्होंने कहा कि मौजूदा स्टेट अपने खिलाफ विद्रोह करने वालों को आतंकी बताता है। बस कुछ इसी संदर्भ में भगत सिंह का भी जिक्र आया था। बता दें कि उत्तर प्रदेश के सीएम आदित्यनाथ योगी की हनुमान पर टिप्पणी के बाद जम्मू यूनिवर्सिटी का नया मामला सामने आया है।

कमेंट करें
0bA3T