comScore
Dainik Bhaskar Hindi

लिंचिंग के आरोपियों को पहनाई थी माला, अब जयंत सिन्हा ने मांगी माफी

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 11th, 2018 21:08 IST

2.3k
0
0
लिंचिंग के आरोपियों को पहनाई थी माला, अब जयंत सिन्हा ने मांगी माफी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने आखिरकार मॉब लिचिंग के आरोपियों का स्वागत करने के मामले में माफी मांग ही ली। उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी कहा था कि कानून अपना काम करेगी। दोषियों को दंडित किया जाएगा, वहीं निर्दोष लोगों को बचाया जाएगा। यदि जेल से निकले लोगों (लिचिंग के दोषी) को माला पहनाने से ऐसा लगा रहा है कि मैं दोषियों का समर्थन कर रहा हूं, तो मैं इस पर खेद प्रकट करता हूं।

विपक्ष ने साधा निशाना

दरअसल, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने झारखंड के रामगढ़ में मॉब लिचिंग के दोषी आठ लोगों को जमानत मिलने पर फूलों का हार पहनाकर स्वागत किया था। इस घटना के बाद वे विपक्ष के निशाने पर आ गए थे। विपक्ष ने आरोप लगाया था कि मॉब लिचिंग मामले में दोषी करार दिए गए आठ अरोपी, जिनमें भाजपा कार्यकर्ता भी शामिल थे। इस मामले पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन का कहना है कि यह बेहद संवेदनशील मामला था। केंद्रीय मंत्री का यह आचरण अनुचित था।

यह था मामला

बता दें कि पिछले साल 27 जून को हजारीबाग जिले के रामगढ़ इलाके में कथित गोरक्षकों ने प्रतिबंधित मांस ले जा रहे एक ट्रक पर हमला कर उसके ड्राइवर अलीमुद्दीन अंसारी की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद फास्ट ट्रैक कोर्ट में 21 मार्च को इस मामले की सुनवाई पूरी हुई। कोर्ट 11 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। सांसद जयंत सिन्हा ने इस मामले पुलिस की जांच पर सवाल खड़ा करते हुए अप्रैल माह में सीबीआई जांच की मांग की थी। इसके बाद सभी दोषियों ने हाईकोर्ट का रूख किया। इसमें से आठ लोगों को 29 जून को जमानत मिल गई थी।  

बता दें कि इससे पहले जयंत सिन्हा ने लिंचिंग के आरोपियों को सम्मानित करने के कदम को सही ठहराया था। उन्होंने मेल टुडे टूरिजम समिट में इस मामले पर कहा था कि भले ही उन्होंने इन लोगों का सम्मान किया है, पर वे उनके कामों का समर्थन नहीं करते हैं। उन्होंने कहा था कि लिंचिंग के आरोपी उनके घर पर आए थे, इसलिए उन्हें इन लोगों का सम्मान करना पड़ा।  

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download