comScore
Dainik Bhaskar Hindi

मक्का मस्जिद ब्लास्ट: जज ने फैसला सुनाने के कुछ घंटों बाद दिया इस्तीफा

BhaskarHindi.com | Last Modified - April 17th, 2018 11:49 IST

2.4k
0
0
मक्का मस्जिद ब्लास्ट: जज ने फैसला सुनाने के कुछ घंटों बाद दिया इस्तीफा

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। हैदराबाद की प्रसिद्ध मक्का मस्जिद पर मई 2007 में हुए बम ब्लास्ट केस में फैसला सुनाने वाले स्पेशल एनआईए कोर्ट के जज रविंदर रेड्डी ने इस्तीफा दे दिया है। केस में फैसला सुनाने के चंद घंटों बाद ही जज ने इस्तीफा देने का निर्णय लिया। इस निर्णय के पीछे व्यकतिगत कारण बताए जा रहे है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेड्डी ने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को अपना इस्तीफा भेजा है।  बता दें कि सोमवार को कोर्ट ने 11 साल पुराने मामले में सबूतों के अभाव सबूतों के अभाव का हवाला देते हुए  5 आरोपियों को बरी कर दिया था। 

कब हुआ था ब्लास्ट?
18 मई 2007 को जुमे की नमाज के दौरान हैदराबाद की प्रसिद्ध मक्का मस्जिद में एक बम ब्लास्ट हुआ था, जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी। इस हमले में 58 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। बताया जाता है कि इस घटना के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए हवाई फायरिंग भी की थी, जिसमें 5 और लोग मारे गए थे। 

कितने लोगों को बनाया गया था आरोपी?
इस हमले के लिए 10 लोगों को आरोपी बनाया गया था, जिनमें से 5 लोगों को ही गिरफ्तार किया जा सका था। इस ब्लास्ट केस में स्वामी असीमानंद, देवेंद्र गुप्ता, लोकेश शर्मा, भरत मोहनलाल रतेश्वर और राजेंद्र चौधरी को गिरफ्तार किया गया था, हालांकि इन सभी को कोर्ट ने बरी कर दिया है। जबकि दो आरोपी रामचंद्र कालसांगरा और संदीप डांगे अब भी फरार हैं। इसी मामले में मुख्य आरोपी ठहराए गए आरएसएस के कार्यवाहक सुनील जोशी की जांच के दौरान ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वहीं दो और आरोपियों के खिलाफ अभी भी जांच ही चल रही है।

अप्रैल 2011 में NIA को सौंपी जांच
2007 में बम ब्लास्ट होने के बाद शुरुआत जांच लोकल पुलिस ने की, लेकिन बाद में इस केस को CBI को ट्रांसफर कर दिया गया। CBI ने इस मामले में 68 चश्मदीद गवाहों की बयान दर्ज किए थे, जिनमें से 54 गवाह बाद में मुकर गए। इस मामले में CBI ने चार्जशीट भी दाखिल की थी। मगर बाद में अप्रैल 2011 में इस केस को नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) को सौंप दिया गया था। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें