comScore

ज्योतिरादित्य बोले - राम मंदिर कैसे बनवाते हैं सिंधिया परिवार से सीखे बीजेपी

December 02nd, 2018 20:42 IST
ज्योतिरादित्य बोले - राम मंदिर कैसे बनवाते हैं सिंधिया परिवार से सीखे बीजेपी

हाईलाइट

  • ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अयोध्या में राम मंदिर को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है।
  • सिंधिया ने कहा कि बीजेपी हमेशा पवित्र 'गीता' की कसम खाकर कहती है, मंदिर अयोध्या में ही बनाएंगे।
  • सिंधिया ने कहा कि लेकिन बीजेपी कभी तारीख नहीं बताती है।

डिजिटल डेस्क, जयपुर। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अयोध्या में राम मंदिर को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है। सिंधिया ने कहा कि बीजेपी हमेशा पवित्र 'गीता' की कसम खाकर कहती है, मंदिर अयोध्या में ही बनाएंगे, लेकिन कभी तारीख नहीं बताती है। सिंधिया ने कहा कि बीजेपी को अगर मंदिर बनवाना है, तो उसे सिंधिया परिवार से सीखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सिंधिया परिवार ने कई राज्यों में 60 मंदिर बनवाए हैं।

सिंधिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, 'राजनीति को किसी भी धर्म में प्रवेश नहीं करना चाहिए और न धर्म को राजनीति में प्रवेश करना चाहिए। जहां तक किसी के धर्म का सवाल है, तो वह उसका अपना है, लेकिन बीजेपी को हल्ला करने की आदत है। बीजेपी हमेशा कहती है, कसम गीत की, मंदिर हम वहीं बनाएंगे, पर तारीख नहीं बताएंगे।'

सिंधिया ने कहा, 'बीजेपी की यही सच्चाई है। अगर वह मंदिर बनाना सीखना चाहते हैं, तो उन्हें सिंधिया परिवार से सीखना चाहिए। सिंधिया परिवार ने राजस्थान, यूपी, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में 60 मंदिर बनवाए हैं। इस दौरान किसी भी समुदाय को कोई दिक्कत नहीं हुई।'

सिंधिया ने कहा, 'यदि आप पांच राज्यों में हमारी चुनाव प्रक्रिया को देखें, तो कांग्रेस अपने सिद्धांतों को लेकर बिलकुल स्पष्ट है। हमारा सिद्धांत शांति का माहौल और सहिष्णुता का है। बीजेपी द्वारा तैयार किया गया असहिष्णुता का माहौल सिर्फ और सिर्फ हमारे (कांग्रेस) द्वारा समाप्त किया जाएगा।'

मध्यप्रदेश में कई EVM के खराब होने पर सिंधिया ने कहा, 'हमें रिपोर्ट मिली है कि कई कमरों में सीसीटीवी और बिजली 1-2 घंटे के लिए बंद कर दी गई थी। सागर में मतदान होने के 48 घंटे बाद बिना नंबर प्लेट वाली एक बस मतदान केंद्र के बाहर आकर रुकती है। इसमें 60-70 ईवीएम थी, इससे कई सवाल उठते हैं।'

सिंधिया ने कहा, 'हमारा लक्ष्य प्रत्येक समुदाय और समाज का विकास है। यह हमारी पुरानी परंपरा है और हमेशा से इसका पालन करते आ रहे हैं और करते रहेंगे। जहां तक ​​सुषमा जी (सुषमा स्वराज) का सवाल है, तो उन्हें यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा राजस्थान में दिए जा रहे उनके बयान सुनने की जरूरत है। सुषमा जी को उनका जवाब मिल जाएगा।'

कमेंट करें
D7lX6