comScore

खलघाट : सिंधिया बोले- एमपी को 'शवराज' ना बनाओ, शिवराज का रूस दौरा रद्द

July 27th, 2017 16:34 IST
खलघाट : सिंधिया बोले- एमपी को 'शवराज' ना बनाओ, शिवराज का रूस दौरा रद्द

दैनिक भास्कर न्यूज डेस्क, खलघाट. कांग्रेस ने शनिवार को खलघाट में किसान पंचायत कर एमपी में आगामी विधानसभा चुनावों की भूमिका बनाते हुए किसान आंदोलन के तहत 'जेल भरो आंदोलन' चलाया. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस दौरान राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि एमपी को 'शवराज' मत बनाओ. इसके बाद भाजपा उपाध्यक्ष प्रभात झा ने भी पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस खलघाट जाए या कहीं और आगामी विधानसभा चुनावों में उसकी खाट खड़ी हो जाएगी.

कांग्रेस को चुनौती देते हुए झा ने कहा कि उन्हें आगामी विधानसभा चुनाव के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया को मुख्यमंत्री के रूप में प्रोजक्ट करना चाहिए. उन्होंने कहा कि सिंधिया के सीएम प्रोजेक्ट करने के बाद भी भाजपा 200 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर जीत हासिल करेगी. ज्ञात हो कि इस स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी अपना रूस दौरा रद्द कर दिया है. 

खलघाट में कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेताओं ने कहा कि किसानों की मौत का मुद्दा कांग्रेस हर घर तक ले जाएगी और लोगों को राज्य सरकार की नाकामी बताएगी. इस दौरान सिंधिया ने कहा कि 'शिवराज के शासन काल में प्रदेश को 'शव राज' बनाने का काम नहीं होना चाहिए. भोपाल से निकले किसान सत्याग्रह का खलघाट में समापन भले हो रहा है. इससे सरकार यह ना समझ ले कि यह लड़ाई यहीं खत्म हो गई है. शिवराज ने नर्मदा मैया को खोखला बना दिया है. सिंधिया ने कहा कि मंदसौर के किसानों की मशाल को कांग्रेस जलाए रखेगी. भोपाल से प्रारंभ हुआ यह सत्याग्रह अब प्रदेश में विधानसभा स्तर पर जारी रहेगा.'  

जेल भरो आंदोलन के लिए खलघाट में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित बड़ी तादाद में कांग्रेसी कार्यकर्ता व किसान पहुंचे. 

सिंधिया ने कहा- मेरी शिवराज सरकार से मांग है :

1. मंदसौर गोलीकांड के दोषी अफसरों पर FIR दर्ज हो एवं दोषियों को अतिशीघ्र दंडित किया जाए.

2. जेलों में बन्द 300 से ज्यादा किसानों को तुरंत बिना किसी शर्त रिहा किया जाये.

3. किसान भाइयों पर गोली चलाने की वजह को उजागर किया जाए.

4. किसानों के खसरा- खतौनी व अन्य राजश्व प्रकरणो में जानबूझकर देरी की जाती और भ्रष्ट्राचार होता है इसकी जांच हो शीघ्र करवाई जाए.

5. देश भर के मुकावले मध्ययप्रदेश में सर्वाधिक लगने वाला वेट कर पेट्रोल- डीजल से हटाया जाए.

6. मंडी में किसान की मर्जी के अनुसार भुगतान हो ( नगद या चैक).

7. किसानों का कर्ज माफ हो.

8- स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को शीघ्र लागू की जाए.

कमेंट करें
WlTJb