comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कर्नाटक : बीजेपी के गढ़ में कांग्रेस ने लगाई सेंध, सौम्या रेड्डी 3775 वोटों से जीतीं

BhaskarHindi.com | Last Modified - June 13th, 2018 17:20 IST

7k
0
0

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरू। कर्नाटक में बीजेपी को एक बार फिर झटका लगा है। यहां जयनगर विधानसभा सीट हुए चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सौम्या रेड्डी जीत गई हैं। सौम्या रेड्डी ने यहां बीजेपी प्रत्याशी बी.एन. प्रहलाद को 3775 वोटों से हरा दिया है। कांग्रेस प्रत्याशी को यहां 54,045 वोट मिले हैं, जबकि बीजेपी प्रत्याशी को 50,270 वोट हासिल हुए हैं। बता दें कि जयनगर सीट पर लंबे समय से बीजेपी का कब्जा था। कांग्रेस बीजेपी के किले को ढहाने में कामयाब रही है। इस जीत के साथ कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस के सदस्यों की संख्या 80 हो गई है।



जयनगर सीट के लिए सोमवार को वोटिंग संपन्न हुई थी। इस चुनाव में 55% वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। बता दें कि 12 मई को हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में इस सीट पर मतदान नहीं हुआ था। चुनाव के दौरान बीजेपी प्रत्याशी बी. एन. विजयकुमार के निधन के चलते इस सीट पर चुनाव स्थगित कर दिए गए थे। यहां बीजेपी की ओर से विजयकुमार के भाई बी.एन. प्रहलाद को टिकट दिया गया था, वहीं कांग्रेस ने रामालिंगा रेड्डी की बेटी सौम्या रेड्डी को अपना प्रत्याशी बनाया था। जेडीएस ने यहां कांग्रेस प्रत्याशी को अपना समर्थन दिया था। वर्तमान समय में कर्नाटक के राजनीतिक हालत देखते हुए इस सीट पर चुनाव बेहद महत्वपूर्ण थे। यहां कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सत्ता पर काबिज तो है लेकिन बीजेपी भी अंदरखाने कर्नाटक में अपनी सरकार बनाने की कोशिश में है। ऐसे में एक-एक सीट के लिए यहां अभी भी मारामारी है।


LIVE Updates :

12.00 AM : कांग्रेस की सौम्या रेड्डी ने जयनगर विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की। सौम्या रेड्डी ने यहां बीजेपी प्रत्याशी बी.एन. प्रहलाद को 3775 वोटों से हरा दिया है।

10.20 AM : 8 राउंड के बाद कांग्रेस की सौम्या रेड्डी 10 हजार 205 वोटों से आगे

09.30 AM : चौथे राउंड की गिनती के बाद कांग्रेस प्रत्याशी सौम्या रेड्डी, अपने प्रतिद्वंदी बीजेपी प्रत्याशी बी.एन. प्रहलाद से 5348 वोटों से आगे चल रही हैं।


09.00 AM : पहले राउंड की गिनती के बाद कांग्रेस प्रत्याशी सौम्या रेड्डी, अपने प्रतिद्वंदी बीजेपी प्रत्याशी बी.एन. प्रहलाद से 427 वोटों से आगे चल रही हैं।


क्यों महत्वपूर्ण थी जयनगर सीट

बीजेपी यहां विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा ने सीएम पद की शपथ भी ले ली थी लेकिन बहुमत न जुटा पाने के कारण उनकी सरकार गिर गई थी। बीजेपी के पास सदन में 104 विधायक हैं। अगर जयनगर सीट पर भगवा पार्टी विजय हो जाती तो यह संख्या 105 हो जाती, ऐसे में बीजेपी यदि अन्य दलों के 8 विधायक और जुगाड़ लेती तो वह एक बार फिर कर्नाटक में सरकार बनाने की स्थिति में होती।

बीजेपी के संपर्क में हैं कई कांग्रेस और जेडीएस नेता

कर्नाटक में मंत्री पद न मिलने से नाराज कुछ कांग्रेस और जेडीएस नेता बीजेपी के संपर्क में बताए जा रहे हैं। दोनों ही दलों के कई विधायक मंत्रीपद न मिलने से नाराज चल रहे हैं। कांग्रेस में नाराजगी ज्यादा है। भाजपा नेता बी एस येदियुरप्पा ने पिछले शनिवार को ही यह दावा किया था कि मंत्री पद न मिलने से कई कांग्रेस और जेडीएस विधायक नाराज हैं और वे बीजेपी में आना चाहते हैं। बीजेपी सदस्यों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि यह उनकी जिम्मेदारी है कि जेडिएस एवं कांग्रेस से असंतुष्ट लोगों को अपनी पार्टी में शामिल करें। हालांकि नाराज कांग्रेस विधायकों के बीजेपी खेमे में जाने की खबरों को मंत्री डीके शिवकुमार ने रविवार को खारिज कर दिया था। उन्होंने कहा था कि कुछ कांग्रेस नेता मंत्री पद न मिलने से नाराज जरूर थे लेकिन अब उन्हें मना लिया गया है। वे कोई गलत कदम नहीं उठाएंगे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर