comScore
Election 2019

आतंकवादी संगठन छोड़ घर लौटा कश्मीरी छात्र, फेंक दिया इस्लामिक स्टेट का झंडा

December 03rd, 2018 09:22 IST
आतंकवादी संगठन छोड़ घर लौटा कश्मीरी छात्र, फेंक दिया इस्लामिक स्टेट का झंडा

हाईलाइट

  • आतंकवादी संगठन आईएसजेके में शामिल हुआ एक छात्र रविवार को अपने घर लौट आया।
  • वह नोएडा की एक युनिवर्स‍िटी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था।
  • माता-पिता ने अपने बेटे से अपील की थी कि वह आतंकी संगठन को छोड़ कर वापस अपने घर लौट आए।

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ जम्मू-कश्मीर (ISJK) में शामिल हुआ एक छात्र रविवार को अपने घर लौट आया। वह नोएडा की एक युनिवर्स‍िटी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। बताया जा रहा है कि माता-पिता ने अपने बेटे से अपील की थी कि वह आतंकी संगठन को छोड़ कर वापस अपने घर लौट आए। माता-पिता की भावुक अपील के बाद वह वापस लौट आया।

20 वर्षीय इस छात्र का नाम एहतेशाम बिलाल है। वह श्रीनगर के खानयार का रहने वाला है। अक्टूबर महीने में नोएडा की एक यूनिवर्सटी से वह लापता हो गया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर इस छात्र की एक तस्वीर सामने आई थी जिसमें वह काली पगड़ी और काला पठानी सूट पहने दिखाई दिया था। उसके सीने पर विस्फोटक बंधे थे और पीछे इस्लामिक स्टेट का झंडा दिखाई दे रहा था।

इसके बाद परिवार के सदस्यों की हाथ जोड़े हुए तस्वीरें स्थानीय अखबारों में छापी गई। माता-पिता ने तस्वीर के साथ भावुक अपील करते हुए कहा था कि, ‘एहतेशाम सोफी कबीले में उनका इकलौता बेटा है और उसे अपने परिवार के पास लौटने दिया जाए।’ अपील में उसके पिता बिलाल सोफी के हवाले से कहा गया, ‘मेरे बेटे, तुम कहते थे कि जन्नत अम्मी-अब्बू के पैरों में है, इसलिए आ जाओ और फिर से हमारे साथ रहो।’

इन भावुक अपीलों को पढ़कर आखिरकर एहतेशाम रविवार को अपने घर वापस लौट आया। एहतेशाम के घर लौटने के बाद ऐसी खबरे आ रही थी कि पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। हालांकि इन खबरों को जम्मू-कश्मीर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने पूरी तरह से खारिज कर दिया। पुलिस विभाग की तरफ से कहा गया, एहतेशाम के खिलाफ किसी तरह का मामला दर्ज नहीं किया गया है। उसे केवल मेडिकल जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया है।

Loading...
कमेंट करें
dTcA5
Loading...