comScore
Dainik Bhaskar Hindi

अंकित मर्डर: मुआवजे की मांग पर शोक सभा छोड़ चले गए केजरीवाल

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 13th, 2018 18:36 IST

2.4k
0
0
अंकित मर्डर: मुआवजे की मांग पर शोक सभा छोड़ चले गए केजरीवाल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली में अंकित सक्सेना की हत्या के बाद सभी पार्टियां अपना सियासी फायदा उठाने में लगी हुई हैं। सोमवार अंकित की तेरहवी पर शोक सभा रखी गई थी। जिसमें कई पार्टी ने नेताओं के अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी पहुंचे थे, लेकिन जब अंकित के परिजनों ने केजरीवाल से मुआवजे की बात कही तो केजरीवाल तुरंत उठकर हाथ जोड़ते हुए चले गए। इस पर आप से निष्कासित दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें अंकित के पिता पीछे से केजरीवाल को पुकारते रहे और अंत में उन्हें कहना पड़ा कि मेरे साथ गेम मत खेलो।

केजरीवाल ने शोकसभा में कहा, “जब भी आपको (सक्सेना परिवार को) जरूरत हो, मेरे पास आने में संकोच नहीं करें। मैं आपके साथ निजी तौर पर संपर्क में रहूंगा।” कपिल के मुताबिक, 'अंकित के परिजनों ने जब कहा की जीवनयापन मुश्किल हो रहा है आप एक सहायता राशि की घोषणा कीजिए तो उनके बोलते हुए ही केजरीवाल सभा से उठ के चल दिए। अंकित के पिता पीछे से उन्हें पुकारते रहे और अंत में उन्हें कहना पड़ा कि मेरे साथ गेम मत खेलो। ये बहुत अपमानजनक है, क्या मुख्यमंत्री वहां उनका अपमान करने गए थे ! शोक सभा से ऐसे नहीँ जाया जाता।'

गौरतलब है कि अंकित की तेरहवीं पर शोकसभा आयोजित की गई थी। दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई प्रमुख दलों के नेतागण इस कार्यक्रम में शामिल हुए। केजरीवाल को देख यहां जुटे लोगों ने एक करोड़ मुआवजे की मांग रखी। भी पहुंचे थे। इन लोगों ने दिल्ली सरकार द्वारा अंकित सक्सेना के परिजनों के लिए जिस रकम की घोषणा की गई है उसे लेकर भी विरोध जताया। प्रार्थना सभा में मौजूद भाजपा नेता व सांसद  मनोज तिवारी ने भी केजरीवाल सरकार को आड़े हाथों लिया।

दिल्‍ली भाजपा अध्‍यक्ष मनोज तिवारी ने भी अंकित के परिवार को एक करोड़ रुपए का मुआवजा देने की मांग की। मनोज तिवारी ने कहा कि अगर दिल्ली सरकार एमएम खान की मौत पर एक करोड़ रुपए दे सकती है तो अंकित सक्सेना के परिवार वालों को क्यों नहीं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download