comScore

केरल: इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों ने कहा "हमें धोखे से खिलाया बीफ कटलेट"

January 29th, 2018 17:26 IST
केरल: इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों ने कहा

डिजिटल डेस्क, अलप्पुझा। कोचिन विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय के एक इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों ने प्रिंसिपल पर गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्रों का कहना है कि वे शाकाहारी है, लेकिन उन्हें धोखे से बीफ वाला कटलेट खिला दिया गया। बिहार के कुछ छात्रों ने बताया कि पुलिनकुन्नू स्थित कॉलेज में 25 जनवरी को एक सेमिनार का आयोजन किया गया था। इसी दौरान उन्हें शाकाहारी बताकर बीफ कटलेट परोस दिया गया। यह परिसर कोचीन विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय के अधीन आता है जिसका मुख्यालय कोच्चि में है।

छात्रों ने डीएम के पास शिकायत दर्ज कराई

छात्रों ने आरोप लगाया है कि उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए उनके साथ ऐसा किया गया। छात्रों ने इसकी शिकायत अलप्पुझा के डीएम के पास दर्ज करवाई है। छात्रों ने कहा कि उन्हें कटलेट को सब्जी के तौर पर दिया गया था। कटलेट शाकाहारी है या नहीं इस बारे में छात्रों ने पूछा तो उनसे कहा गया कि कटलेट शाकाहारी है। छात्र अंगित कुमार और हिमांशु कुमार ने आरोप लगाया कि बार-बार पूछे जाने के बावजूद कॉलेज के अधिकारी ये ही कहते रहे कि कटलेट सब्जियों से बना है। 

कॉलेज प्रशासन मौन


इसके बाद जैसे ही छात्रों ने कटलेट खाया तो उन्हें पता चला कि कटलेट मांसाहारी है। दूसरे छात्रों से भी पता चला कि उनकी थाली में परोसा गया कटलेट बीफ से बना हुआ था। गुस्साए छात्र मामले की शिकायत लेकर जिला अधिकारी के पास गए और अपनी शिकायत दर्ज करवाई। छात्रों ने कहा कि इस सब की जानकारी कॉलेज के प्रिंसिपल को थी, बावजूद इसके ऐसा हुआ है। बीफ कटलेट खाने के बाद कई छात्र बीफ खाने की बात को लेकर तनाव में हैं। छात्रों ने कहा कि वह बिहार से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने केरला आए हैं और पूर्णतः शाकाहारी हैं।

प्रिंसिपल ने आरोपों को नकारा

वहीं, प्रिंसिपल डॉ. सुनील कुमार ने सारे आरोपों से इनकार किया है, उनके मुताबिक, कॉलेज अथॉरिटी की तरफ से छात्रों को नाश्ता नहीं परोसा गया था। प्रिंसिपल ने कहा, "डिजिटल बैंकिंग अवेयनेस पर सेमिनार चल रहा था, जहां आयोजनकर्ताओं ने बाहरी छात्रों और मेहमानों को नाश्ता परोसा।" प्रिंसिपल के मुताबिक, जिन छात्रों ने आरोप लगाया है, उन्हें कुछ दिनों पहले एक मामले में क्लास से सस्पेंड किया गया था। छात्र बदले की भावना से ऐसा कर रहे हैं। 

कमेंट करें
YvdCk