comScore

ट्रंप से दोबारा मिलने के लिए रवाना हुए किम जोंग उन, ट्रेन से पहुंचेंगे वियतनाम

February 24th, 2019 18:38 IST
ट्रंप से दोबारा मिलने के लिए रवाना हुए किम जोंग उन, ट्रेन से पहुंचेंगे वियतनाम

हाईलाइट

  • तानाशाह किम जोंग उन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने के लिए रवाना हो चुके हैं।
  • किम जोंग और ट्रंप बुधवार और गुरुवार को वियतनाम की राजधानी हनोई में मिलेंगे।
  • किम जोंग और ट्रंप के बीच दूसरी मुलाकात होगी।

डिजिटल डेस्क, प्योंगयांग। नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने के लिए रवाना हो चुके हैं। किम जोंग और ट्रंप बुधवार और गुरुवार (27-28 फरवरी) को एक द्विपक्षीय मीटिंग में वियतनाम की राजधानी हनोई में मिलेंगे। यह किम जोंग और ट्रंप के बीच दूसरी मुलाकात होगी। किम जोंग हनोई के लिए प्योंगयांग से ट्रेन से ही रवाना हुए और वह चीन होते हुए हनोई जाएंगे। स्थानीय समयानुसार वह करीब रात 9 बजे नॉर्थ कोरिया-चीन से सटे शहर डानडोंग पहुंचे और आगे के लिए रवाना हुए। इस मीटिंग में ट्रंप नॉर्थ कोरियाई तानाशाह से परमाणु मुक्त होने को लेकर बात कर सकते हैं। 

नॉर्थ कोरियन स्टेट मीडिया ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि किम जोंग के साथ उनकी बहन किम यो जोंग और नॉर्थ कोरिया के पूर्व इंटेलीजेंस चीफ किम योंग चोल भी वियतनाम के लिए रवाना हुए हैं। प्योंगयांग और हनोई के बीच करीब 2700 किमी की दूरी वह ट्रेन से ही पूरी करेंगे। मीडिया ने इस दौरान एक वीडियो भी जारी किया है। इस वीडियो में किम जाने से पहले प्योंगयांग स्टेशन पर गार्ड ऑफ ऑनर लेते हुए दिखाई पड़ रहे हैं। 

किम जोंग और ट्रंप के बीच यह मीटिंग काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। दोनों देशों के बीच पिछले कुछ महीनों से ही मीटिंग होने की अटकलें लगाई जा रही थीं। इससे पहले नॉर्थ कोरिया के पूर्व इंटेलीजेंस चीफ किम योंग चोल अमेरिका पहुंचे थे। उन्होंने राष्ट्रपति ट्रंप के साथ व्हाइट हाउस में करीब 90 मिनट तक मीटिंग की। इसके बाद व्हाइट हाउस ने नॉर्थ कोरिया के तानाशाह और ट्रंप के बीच फरवरी अंत में मीटिंग का ऐलान किया था। 

ट्रंप की प्रेस सचिव सार सैंडर्स ने इस साल जनवरी में कहा था कि 'यूएस नॉर्थ कोरिया पर तब तक प्रतिबंध जारी रखेगा, जब तक किम जोंग उन अपने परमाणु को पूरी तरह से खत्म नहीं कर देते।' हालांकि सैंडर्स ने नॉर्थ कोरिया के जेल में बंद यूएस के कैदियों को छोड़े जाने को लेकर किम प्रशासन की तारीफ भी की। नॉर्थ कोरिया ट्रंप और किम के बीच पहले सिंगापुर में हुए पहले समिट के बाद से अभी तक कोई भी परमाणु परिक्षण नहीं किया है। हालांकि हाल ही में आई कुछ रिपोर्ट के अनुसार नॉर्थ कोरिया अभी तक परमाणु मुक्त होने के अपने वादे को पुरा नहीं किया है।

बता दें कि पिछले साल जून में अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के शासकों ने सिंगापुर में मुलाकात की थी। इस मीटिंग में किम ने ट्रम्प से नॉर्थ कोरिया पर लगाए गए प्रतिबंध को हटाने की मांग की थी और साथ ही 1950-53 कोरियन वॉर को भी ऑफिशयली समाप्त करने को कहा था। हालांकि यूएस ने इस मांग को ठुकरा दिया था और कहा था कि यूएस इस मांग को तभी पूरा करेगा, जब प्योंगयांग परमाणु मुक्त हो जाएगा। किम ने इस शर्त को मान लिया था। इसके बाद यूएस राष्ट्रपति ने भी किम जोंग से फरवरी में मिलने की इच्छा जताई थी।  

कमेंट करें
OXIgA