comScore
Dainik Bhaskar Hindi

B, Day Spl: जानिए कैसी थी दुनिया को हंसाने वाले चार्ली चैपलिन की जिंदगी

BhaskarHindi.com | Last Modified - April 16th, 2018 15:01 IST

4.2k
0
0
B, Day Spl: जानिए कैसी थी दुनिया को हंसाने वाले चार्ली चैपलिन की जिंदगी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अंग्रेजी सिनेमा का ऐसा दौर जब मूक कॉमेडी का चेहरा बने एक इंसान ने दुनिया को अपनी अजीबो-गरीब हरकतों से हंसाया। उस समय शायद यही कॉमेडी कहलाती थी। आज ही के दिन 16 अप्रैल 1889 वॉलवर्थ लंडन में दुनिया के सबसे बड़े कॉमेडियन चार्ली चैपलिन ने जन्म लिया था। इस बात में कोई शक नहीं है कि चार्ली चैपलिन से बड़ा कोई कॉमेडियन नहीं है, लेकिन क्या आपको पता है कि चार्ली का निजी जीवन अवसाद से भरा था। चार्ली की मां स्टेज एक्ट्रेस थीं, चार्ली के पिता शराबी थे, कुछ समय बाद मां को मानसिक बीमारी के चलते बाद में पागलखाने जाना पड़ा।

आज भी दुनिया चार्ली की दीवानी

चार्ली चैपलीन भले ही इस दुनिया में न हों लेकिन उनकी कॉमेडी के लोग आज भी फैन हैं और कई लोग उनकी कॉमेडी को आज भी देखते हैं और पसंद करते हैं। आज चार्ली चैपलीन की 129वीं सालगिरह है। हॉलीवुड से लेकर बॉलीवुड तक में हर कोई चार्ली चैपलिन की कॉमिक स्टाइल का कायल है। बॉलीवुड की कई फिल्मों में सितारों ने चार्ली चैपलीन जैसा किरदार निभा कर उन्हें ट्रिब्यूट भी दिया है। अक्षय कुमार जैसे अभिनेता भी चार्ली चैपलिन को अपनी इंस्पिरेशन मानते हैं, उनके पास हमेशा ही चार्ली चैपलीन की एक तस्वीर रहती है।

बॉलीवुड ने इस तरह दिया ट्रिब्यूट

बॉलीवु़ड की कई फिल्मों में चार्ली चैपलीन के जैसे किरदार को दिखाया गया। इन फिल्मों में राज कपूर की फिल्म 'श्री 420' का नाम शामिल है, इस फिल्म में राज कपूर ने चार्ली चैपलीन की तरह एक्टिंग की थी। जिसकी वजह से उन्हें भारत का चार्ली चैपलिन कहा जाता था। इसके बाद 'मेरा नाम जोकर' और कई दूसरी फिल्मों में राज कपूर को इस तरह के किरदार निभाने का मौका मिला। फिर 'मिस्टर इंडिया' जैसी फिल्म में श्रीदेवी ने एक सीन के दौरान चार्ली चैपलिन की तरह एक्ट किया। श्रीदेवी का यह एक्ट चार्ली चैपलिन के लिए ट्रिब्यूट था और उनके इस एक्ट को बॉलीवुड में सराहा गया था। इसके बाद रणबीर कपूर ने भी फिल्म 'अजब प्रेम की गजब कहानी' के एक सीन में चार्ली चैपलिन का किरदार निभाया था। 


 

चार्ली चैपलिन के जिस हैट, छड़ी और छोटी मूंछों वाले किरदार को हम पहचानते हैं, उसका नाम ट्रैम्प है। आइए जानते हैं चार्ली के जीवन से जुड़ी कुछ बातें.....


हिटलर जैसे तानाशाह का चार्ली ने अपनी फिल्म ‘द ग्रेट डिक्टेटर’ में खुलकर मजाक उड़ाया था।
वामपंथ का समर्थन करने के कारण चार्ली पर अमेरिका ने बैन भी लगा दिया था। 
चार्ली चैपलिन का पूरा नाम चार्ल स्पेंसर चैपलिन था। 
चार्ली का परिवार गरीब था और 9 साल की उम्र से पहले ही उन्हें अपना पेट पालने के लिए काम करना पड़ा।  
चार्ली चैपलिन की पढ़ाई भी 13 साल की उम्र में छूट गई थी।
19 साल की उम्र में चार्ली को एक अमेरिकन कंपनी ने साइन कर लिया था। 

अमेरिका से चार्ली ने फिल्मों की शुरुआत की और 1918 तक वह जाना-माना चेहरा बन गए थे। 
चार्ली चैपलिन की पहली फिल्म 1914 में आई 'मेकिंग अ लिविंग' थी जो एक साइलेंट फिल्म थी।
चार्ली चैपलिन की पहली पहली फुल लेंग्थ फीचर फिल्म 1921 में आई 'द किड' थी। 
चार्ली ने अपने जीवन में दोनों वर्ल्ड वॉर देखे थे, ऐसे समय में वह लोगों को हंसा रहे थे।

चार्ली चैपलिन ने एक बार कहा था, 'मेरा दर्द किसी के हंसने की वजह हो सकता है, लेकिन मेरी हंसी कभी भी किसी के दर्द की वजह नहीं होनी चाहिए।"
चार्ली ने 'अ वुमन ऑफ पैरिस', 'द गोल्ड रश', 'द सर्कस', 'सिटी लाइट्स', 'मॉर्डन टाइम्स' जैसी बेहद मशहूर और सफल फिल्मों में काम किया।  
चार्ली पर कम्यूनिस्ट होने के आरोपों के चलते उन पर एफबीआई की जांच बिठा दी गई।
चार्ली ने आरोपों के चलते अमेरिका छोड़ दिया था और स्विट्जरलैंड में जाकर बस गए।
चार्ली चैपलिन ने अपनी जिंदगी में कुल 4 शादियां की थीं। इन शादियों से उनके 11 बच्चे थे। 
चार्ली चैपलिन ने पहली शादी 1918 में मिल्ड्रेड हैरिस से की थी लेकिन यह शादी 2 साल ही चली।

दूसरी शादी उन्होंने लिटा ग्रे से की और तीसरी पॉलेट गॉडर्ड और 1943 में 18 साल की उना ओनील से चौथी शादी की। चार्ली की शादियां काफी विवादों में भी रही थीं।
मशहूर साइंटिस्ट अल्बर्ट आइंसटीन और ब्रिटेन की महारानी चार्ली चैपलिन के प्रशंसक थे। 
चार्ली महात्मा गांधी से काफी प्रभावित थे। वह महात्मा गांधी का बहुत सम्मान करते थे।  
चार्ली चैपलिन की 1977 में मृत्यु के बाद कुछ लोगों ने उनका शव चुरा लिया था।  

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें