comScore

जानें दुनिया के इन देशों में क्यों नहीं खेला जाता है किक्रेट


डिजिटल डेस्क। दुनिया भर के लोकप्रिय खेलों में से एक क्रिक्रेट अधिकांश देशों में नहीं खेला जाता है। अगर भारतीय उपमहाद्वीप पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका में किक्रेट की लोकप्रिय है, लेकिन चीन ही एक ऐसा देश है जहां किक्रेट से ज्यादा वैश्विक खेलों को महत्व दिया जाता है। यह देश न तो क्रिकेट खेलता है और न ही यहां के लोग इस खेल को पसंद करते हैं। ऐसा ही कुछ हाल जापान, रूस, अमेरिका, क्यूबा और ब्राजील का है। जहां क्रिकेट मशहूर नहीं है। इन देशों में न क्रिकेट खेला जाता है और न देखा जाता है।आइये आपको बताते है कि इन देशों में किक्रेट के लोकप्रिय नहीं होने की वजह...

दुनिया में इस खेल का लाना का श्रेय ब्रिटेन को जाता है। अंग्रेज दुनिया के जिन देशों में गए वहां इस खेल की लोकप्रियता बढ़ती चली गई। जहां वे नहीं गए, वहां क्रिकेट भी नहीं पहुंच सका। ऐसे देश जहां क्रिकेट नहीं पहुंच सका, वहां के हालात और कारण दूसरे हैं। पहला तो यह कि वहां क्रिकेट से ज्यादा कोई और खेल ज्यादा पॉपुलर नहीं था और दूसरा वह आर्थिक रूप से संपन्न नहीं थे।

जापान जैसे देश में ब्रिटिश लोग नहीं गए। 19वीं सदी में जापान का बाहरी दुनिया से कोई खास संपर्क भी नहीं था। हालांकि यहां क्रिकेट से काफी कुछ मिलता-जुलता अमेरिकी खेल 'बेसबॉल' जरूर खेला जाता है। बेसबॉल यहां खासा मशहूर भी हैं। 1871 में अमेरिकी टीचर होरेस विल्सन ने इस खेल की खोज की थी। कुछ ही साल में यह स्कूल-कॉलेज में खासा पसंद किया जाने लगा। आज यह एक पेशेवर खेल बन चुका है।

कमेंट करें
mBxZY