comScore

झारखंड में बम विस्फोट से कांग्रेस नेता की मौत, समर्थकों ने की जांच की मांग

February 15th, 2018 13:53 IST
झारखंड में बम विस्फोट से कांग्रेस नेता की मौत, समर्थकों ने की जांच की मांग

डिजिटल डेस्क, रांची। झारखंड के कोडरमा जिला कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष शंकर यादव और उनके बॉडीगार्ड की मंगलवार बम विस्फोट में मौत हो गई।  घटना कोडरमा चंदवारा थाना क्षेत्र के ढाब पंचायत की है। जहां उनके वाहन के पास से गुजरते समय अचानक विस्फोटकों से भरी एक कार में धमाका हो गया। बम की चपेट में आने से शंकर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जिलाध्यक्ष शंकर यादव के साथ उनकी गाड़ी में अंगरक्षक भी सवार थे, जो इस हादसे में बुरी तरह से घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि यह विस्फोट इतना घातक था कि कार के पखच्चे उड़ गए। शंकर यादव का शव भी बुरी तरह क्षत विक्षत हो गया।

पहले भी हुआ था जानलेवा हमला

सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले भी 24 अक्टूबर को कांग्रेस जिलाध्यक्ष शंकर यादव पर जानलेवा हमला हुआ था, जिसमें वह बाल बाल बच गए थे। बता दें कि इलाज के दौरान बॉडीगार्ड कृष्णा यादव की भी मृत्यु हो गई, जबकि वाहन चालक धमेंद्र यादव की हालत गंभीर बनी हुई है। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक शिवानी तिवारी, एएसपी अजय पाल, एसडीपीओ अनिल शंकर, डीएसपी कर्मपाल उरांव, चंदवारा थाना प्रभारी सोनी प्रताप सिंह, बीडीओ पल्लवी सिन्हा मौके पर पहुंचे। इस घटना को लेकर पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर एसपी के नेतृत्व में जांच कर रही है। 


 

समर्थकों ने किया घटना का विरोध
 

जिला अध्यक्ष को बम के द्वारा उड़ाए जाने की सूचना पर बरही के कांग्रेस विधायक मनोज यादव के साथ ही अन्य नेता घटनास्थल पर पहुंचे। इस घटना से लोगों में आक्रोश है। आज कोडरमा बंद का भी ऐलान किया गया है। जानकारी के अनुसार शंकर यादव रोजाना की तरह नजदीक के चौपारण हजारीबाग क्षेत्र में संचालित अपने पत्थर खदान से काम काज देख कर लौट रहे थे। इसी दौरान पास से गुजर रहे वाहन में तेज धमाका हुआ।

इस घटना को लेकर कांग्रेस के अन्य नेताओं का कहना है कि शंकर यादव की हत्या कराई गई है। कांग्रेस विधायक मनोज कुमार यादव और राजद की प्रदेश अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री अन्नपूर्णा देवी भी घटना के विरोध में सड़क पर जाम कर बैठ गए। इसके साथ ही पुलिस प्रशासन राज्य सरकार और स्थानीय विधायक व मंत्री नीरा यादव के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।


 

बाबूलाल मरांडी ने शोक प्रकट किया

पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने भी कांग्रेस जिलाध्यक्ष शंकर यादव के परिजनों से मुलाकात की और शोक संवेदनाए दी। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि जब 3-4 महीने पूर्व  शंकर यादव पर  खादान के समीप जानलेवा हमला किया गया था। उसी वक्त घटना में शामिल अपराधियों को पकड़ लिया जाता तो शायद ऐसी घटना नहीं हो पाती। इस पूरे मामले की जांच एसआइटी या सीबीआइ से करायी जानी चाहिए। उन्होंने सरकार से मांग की है कि लोगों की जान माल की सुरक्षा के लिए सरकार को मुकम्मल व्यवस्था करने की जरूरत है।

कमेंट करें
Df3w1